Breaking News

मशरूम उत्पादन पर पांच दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित


बिक्रमगंज
(रोहतास)कृषि विज्ञान केंद्र बिक्रमगंज द्वारा पांच दिवसीय मशरूम उत्पादन विषय पर प्रशिक्षण शुरू किया गया । यह प्रशिक्षण कार्यक्रम दिनांक 13 दिसंबर से 17 दिसंबर 2021 तक 5 दिनों तक चलेगा । इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में सूर्यपुरा जीविका समूह की 15 दीदी , काराकाट की 11 जीविका दीदी एवं संझौली जीविका समूह से पांच जीविका दीदी शामिल हैं । इस अवसर पर वरीय वैज्ञानिक एवं प्रधान आरके जलज ने किसानों को बताया कि कृषि विज्ञान केंद्र के द्वारा रोजगार सृजन में मशरूम उत्पादन एक महत्वपूर्ण आयाम है । इससे महिलाएं घर बैठे मशरूम बनाकर रोजगार एवं आमदनी ले सकती हैं ।  उन्होंने महिला किसानों को मशरूम के विभिन्न उत्पादों को बनाकर आगे बढ़ने की प्रेरणा दी । कार्यक्रम में उपस्थित डॉ रामाकांत सिंह ने किसानों को बताया कि बटन मशरूम कैसे तैयार किया जा सकता है । बटन मशरूम के लिए केसिंग कैसे करेंगे । कौन-कौन से तत्व बटन मशरूम की उत्पादन में लगेगा तथा यह एक बार खाद बन जाने पर लगभग इसका पूरे सीजन उपयोग किया जा सकता है ।  एक क्विंटल खाद से लगभग 80 किलो बटन मशरूम तैयार किया जा सकता है । इस अवसर पर डॉ रतन कुमार ने ओस्टर मशरूम की तैयार के बारे में बताया तथा इसका प्रायोगिक प्रशिक्षण कराए जाने की जानकारी दी । 5 किलो भूसा से एक बैग तैयार होने पर लगभग 4 से 5 किलो ऑस्टर मशरूम  तैयार होगा । आस्टर मशरूम को सुखाकर पेड़ों, लड्डू , विभिन्न प्रकार के मिठाई, खीर, हलवा, सेवई, विटामिन पाउडर इत्यादि बनाए जा सकते हैं । इसमें कुमारी प्रदर्शनी, राजमणि देवी ,जानकी देवी, नूरेसा खातून, पूनम देवी ,कंचन देवी सहित प्रतिभागियों ने भाग लिया ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!