Breaking News

महिलाओं एवं बच्चों के उत्पीड़न के खिलाफ चलाया गया अभियान, उड़ान


यूपी हापुड़ से विशू अग्रवाल की रिपोर्ट

हापुड़। बच्चियों के शारीरीक, मानसिक उत्पीड़न रोकनें व शोषण के विरुद्ध जागरूक करनें के लिए शिक्षिकाओं व बच्चों ने जागरूकता अभियान चलाया और बच्चों ने बेटी बचाओ के पोस्टर बना कर जागरूक किया।

    उड़ान सपनों को नया जीवन , जे एम एस ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस , शिवा प्राथमिक विद्यालय के तत्वावधान में बालिकाओं तथा महिलाओं के प्रति होने वाले दुर्व्यवहार के प्रति अध्यापिकाओं व विद्यार्थियों ने जागरूकता अभियान प्रारंभ किया ।

अभियान का प्रारंभ जे एम एस ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के मैनेजिंग डायरेक्टर आयुष सिंघल ने हरी झंडी दिखा कर किया ।

     इस जागरूकता अभियान के तहत उड़ान की अध्यक्ष शहवार, सचिव सिमरन , शिवा प्राथमिक पाठशाला की प्रधानाध्यापिका डॉ. सुमन , श्री गुरुनानक स्कूल की प्रिंसिपल गगनदीप कौर , योग शिक्षिका शिवानी व रश्मि दीवनिया उपस्थित रहे।

    स्कूली बच्चों अर्शी , निदा , हुमा, शुमाइला , कोमल , महिमा, श्वेता, फरहाना , सादान , आकाश व लुकमान आदि छात्रों ने जनसाधारण को बेटी बचाओ के पोस्टर बना कर जागरूक किया।


महिलाओं के खिलाफ हिंसा पर बात करते हुए उड़ान की अध्यक्ष श्रीमती शाहवार ने कहा कि महिला उत्पीडन मामलों में समाज को जागरूक करने की अत्यंत आवश्यकता है।यह जागरूकता रैली एक पहल है ,जिस से जनसाधारण को बालिकाओं के प्रति सम्मान देने के लिए जागरूक किया का सके।

 साथ ही उन्होंने अदालतों से अपराधियों की सजा पर कोई नरमी नहीं दिखाने के लिए अपील की, अदालतों को मासूम बेबस बच्चियों के साथ जघन्य अपराध के मामलों में समाज द्वारा न्याय के लिए जोर शोर से सुनना चाहिए और उचित सजा देकर जवाब देना चाहिए।

    शिवा प्राथमिक पाठशाला की प्रधानाध्यापिका डॉ. सुमन अग्रवाल ने कहा कि गत दिनों महिला उत्पीड़न तथा नाबालिग बच्चियों के साथ जघन्य अपराध की वारदात बढ़ती जा रही हैं । अदालत से अपेक्षा की जाती है कि अपराध की गंभीरता के अनुरूप दोषियों को सजा देने से ही ऐसे अपराध रोके जा सकते हैं ।

       श्रीमती गगनदीप ने कहा कि ऐसे मामलों में न्यायालय द्वारा दोषी को उचित सजा का प्रावधान शीघ्र करने की आवश्यकता है।

     उड़ान की सचिव सिमरन ने कहा कि इस तरह के जघन्य अपराध के मामले में जन सामान्य में जागरूकता न होना इंसानियत का मज़ाक उड़ाना है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!