Breaking News

संगीत की धुनों के जरिए अपनी संस्कृति की महक लोगो तक पहुंचा रहे हैं शहर के दो युवा


इंदौर
के दो युवा आकाश राजवंशी और विजय मुकाती जो अपनी संगीत की तालीम अपने गुरु श्री गौतम काले जी से ले रहे है। दोनो युवा एक बैंड में अपनी प्रस्तुति देते है ।

उड़न खटोला द फ़ोक बैंड जहां आज कल के युवा बॉलीवुड के पीछे भाग रहे हे वहीं इन दोनो ने लोकगीत के आधार पर अपना बैंड बनाया है । उड़न खटोला बैंड कई नैशनल लेवल पर परफॉर्म कर चुका है । अपने गुरु से शास्त्रीय संगीत की तालीम लेकर लोकगीत को और सुंदर बनाने की कोशिश कर रहे हैं । दोनो युवा का एक ही सपना है की जो युवा आज लोकगीत को पहचानते भी नहीं है उनको लोकगीत हम नए तरीक़े से उन लोगो तक भेजना चाहते हैं । क्यूँकि लोकगीत हमारे देश की नीव है और ये देश कि संस्कृति के बारे मे बताते है । बहुत जल्द उड़न खटोला का अपना एक गीत आप लोगों को सुनने को मिलेगा "घनो रिझायो" जिसे पद्मश्री प्रह्लाद तिपानिया जी ने लिखा है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!