Breaking News

नव वर्ष के मौके पर पिकनिक स्पॉटों पर उमड़ी भीड़


सोनो जमुई संवाददाता चंद्रदेव बरनवाल की रिपोर्ट

नव वर्ष 2022 का शुभारंभ होने के साथ ही पिकनिक सपाटों पर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी । जहां पर लोगों ने व्यंजन पकाकर अपने सभी परिजनों के साथ मिलकर खाते हुए नव वर्ष की खुशियां मनाई ।‌ नये वर्ष का आगमन पर लोगों ने अपनी सफलता प्राप्त करने के लिए पुरानी दुख दर्द को भुलाकर एवं नकारात्मक चिजों को मन से निकालकर नई शुरुआत करना प्रारंभ कर दिया ।‌ बताते चलें कि नव वर्ष देश के सभी लोगों के लिए महत्वपूर्ण है क्योंकि नुतन साल हमें नये कार्य करने की प्रेरणा देती है । प्रशासन के आदेशा नुसार बंद किए गए सभी पिकनिक स्पॉटों के कारण लोग नदी के किनारे एवं पहाड़ियों के समीप बड़ी संख्या में लोग पहुंचे और पिकनिक का आनंद लिया । नव को लेकर झामुमो के बिहार प्रदेश संयोजक सह केंद्रिय सदस्य श्री ओंकार नाथ बरनवाल ने बताया कि आज के दौर में लोग नव वर्ष के शुभागमण को उत्सवों के रूप में मनाने लगे हैं , जबकि आज से चार हजार वर्ष पूर्व बेबीलॉन में नये वर्ष को उत्सव के रूप में मनाया जाता था । नुतन वर्ष आप सबों के जीवन में नई उर्जा और उमंग के साथ उत्साह भरा हो , भगवान से यही हमारी कामना है । सोनो बाजार स्थित प्रसिद्ध डाक्टर सह समाज सेवी सुबोध कुमार गुप्ता ने बताया कि बिति वर्ष 2021 में आए कोरोना महामारी ने संपुर्न विश्व की मानवता को झकझोर दिया था । उन्होंने बताया कि बिते वर्ष 2021 को लोग अपने जीवन में कभी भुला नहीं सकेंगे । क्योंकि 2021 एक जीता जागता प्रमाण है कि हजारों की तादाद में नदियों में तैरती हुए बहती लासें ओर एक 14 साल की बेटी अपने पिता को सायकिल पर बिठाकर तकरीबन एक हजार किलोमीटर दूर अपने घर ले आई । साथ ही इस महामारी ने देश वासियों को ऐसा भयावह मंजर दिखाया कि जिसे याद करने मात्र से रुह कांप जायेगी । ऑक्सीजन की कमि अमीर हो या गरीब किसी भी व्यक्ति को नहीं बख्शा इस महामारी ने । देश भर के लोग अपनी एवं अपने परिजनों की सांसो के लिए दर दर भटकने पर मजबुर थे , जिसपर कोई सुनने वाला नहीं था ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!