Breaking News

छात्र युवाओं के समर्थन में महागठबंधन द्वारा बिक्रमगंज बन्द


बिक्रमगंज
(रोहतास)। आरआरबी , एनटीपीसी परीक्षा के रिजल्ट में धांधली तथा ग्रुप डी के परीक्षा में एक की जगह दो परीक्षा के तुगलकी फरमान के खिलाफ उठ खड़े छात्र -युवा आन्दोलन के प्रति सरकार का दमनात्मक रवैया के खिलाफ बिक्रमगंज में महागठबंधन के नेताओं के समर्थन में छात्र -युवा ने मिलकर बिक्रमगंज के तेन्दुनी चौक को घंटों जाम कर दिया । जिसमें इमरजेंसी सेवा को छोड़कर सभी तरह के यातयात को बन्द कर दिया । छात्र युवा आन्दोलन के प्रति सरकार को दमनात्मत रवैया निदनीय है । छात्र युवाओं पर पुलिसिया दमन आंसू गैस गिरफ्तारी व मुकदमें थोपी कर सरकार आंदोलन को कुचलने की जो कोशिश कर रही है वो कही से भी जायज नहीं है । छात्र -युवा का यह महाविस्फोट अकरणः नहीं है बिगत 7 सालो में भाजपा के राज में वे अपने को लगतार छला महसूस कर रहे है । बिहार की राज्य सरकार ने भी उन्हें धोखा दिया है । ऐसी कोई परीक्षा नहीं है जिसकी प्रक्रिया पूरी होने में कम से कम 5 से 7 साल का समय नहीं लगता हो । इससे छात्र -युवा तंग आ गए हैं वेरोजगारी का आलम यह है कि ग्रुप डी तक परीक्षा में भी करोड़ों आवेदन आते हैं ।बिहार में तो बेरोजगारी चरम पर हैं , इसलिए सबसे तीखा प्रतिवाद यही पर हो रहा है । यदि सरकार सच मुच छात्र युवाओं के सवाल के प्रति गंभीर होती तो इन की मांगों को मान लेने में कोई परेशानी नही होती । पहले मामले में 7 लाख संशोधित रिजल्ट और ग्रुप डी मामले में पहले की तरह नोटिफिकेशन के आधार पर केवल एक परीक्षा का सवाल ऐसा नहीं है । जिसमें जांच कमिटी बनाना जाहिर सी बात है कि यह आक्रोश को कमजोर करने का सरकार का एक तरीका है या कहे कि षड्यंत्र के जरिए इस आन्दोलन को ख़त्म करने का एक सरकारी तरीका है । सरकार के इस दमनात्मत रुख से भी स्पष्ट है कि वह मसले को हल करने के प्रति गंभीर नहीं है । भाकपा माले के साथ महागठबंधन के दल स्नातक स्तरीय परीक्षा में सं शोधित 7 लाख रिजल्ट एवं ग्रुप डी में केवल एक परीक्षा की मांग करता है । साथ ही आन्दोलन कर रहे छात्र -युवाओ के दमन पर रोक लगाते हुए उन पर थोपे गए मुकदमों की वापसी की मांग के साथ खड़े है तथा उनके आन्दोलन को हर तरह से समर्थन करते हैं हम केंद्र व राज्य सरकारों से मांग करते छात्र -युवा ओके इस आक्रोश को समझ  तथा धैर्य व संयम का परिचय देते हुए उनकी मांगो का अविलम्ब पूरा करने की मांग की है ।  बन्द में शामिल छात्र -युवाओ  के साथ महागठबंधन के  कृष्ण मेहता ,अनुग्रह नरायण सिंह , असगर हुसैन , राजकुमार राम , सुरेश राम , इमरान खान , उमेश प्रसाद , अचछे लाल पासवान सहित अन्य लोग उपस्थित थे ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!