Breaking News

मां सरस्वती की प्रतिमा बनाने में जुटे मूर्तिकार


बिक्रमगंज
(रोहतास)। विद्या की देवी मां सरस्वती की पूजा अर्चना को लेकर उनकी प्रतिमा का निर्माण कार्य अभी से ही प्रारंभ हो गई है । प्रखंड मुख्यालय में कारीगर प्रतिमा निर्माण में जुट गए हैं । ग्रामीण इलाकों में भी प्रतिमा का निर्माण किया जा रहा है । इनकी पूजा अर्चना सभी शैक्षणिक संस्थानों के साथ-साथ अन्य जगहों पर भी धूमधाम से किया जाता है । ऐसी मान्यता है कि इनके आराधना मात्र से ही विद्या की प्राप्ति हो जाती है । विद्या के प्राप्ति अन्य सभी मार्गों का द्वार खोल देता है । इसे लेकर विद्यार्थियों में काफी उत्सुकता देखा जा रहा है । बेहतर मूर्ति निर्माण को लेकर लोग कारीगरों के पास पहुंच रहे हैं । इसे लेकर उन्हें एडवांस पैसे भी दिए जा रहे हैं । मूर्तिकारों को अपने अनुरूप बेहतर मूर्ति बनाने की सलाह भी दे रहे हैं । मूर्तिकार ललन प्रजापति बताते हैं कि इसे लेकर कई लोगों का आर्डर आ चुका है । लगभग पन्द्रह सौ रूपए से लेकर पांच हजार रूपए तक की मूर्ति का निर्माण किया जा रहा है । हालाकि शैक्षणिक संस्थानों में छोटी मूर्तियां ही ज्यादा पसंद की जाती है । ग्रामीण इलाकों में युवाओं कमेटी गठित कर माता सरस्वती की प्रतिमा स्थापित करते हैं । इनकी पसंद बड़ी मूर्ति होती है । प्रखंड मुख्यालय में मूर्ति निर्माण से जुड़े कारीगर मुंशी प्रजापति बताते हैं कि पहले इस धंधे में काफी आमदनी होती थी । लेकिन अब गांवों में भी कई कारीगर मूर्ति बनाने का कार्य कर रहे हैं । जिसके कारण ग्रामीण इलाके के लोग यहां आने के बजाय गांवों से ही मूर्ति खरीद लेते हैं जिसके कारण व्यवसाय प्रभावित हुआ है । बताते चलें कि सरस्वती की विधिवत पूजा अर्चना अब काफी अधिक होने लगी है । जिसे लेकर मूर्तियों की मांग भी बढ़ गई है । पहले जहां माता के फोटो से भी पूजा अर्चना की रीत पूरी हो जाती थी । वहीं अब प्रतिमा स्थापित करने की होड़ सी मच गई है । एक गांव में कई स्थानों पर माता की प्रतिमा स्थापित की जाती है ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!