Breaking News

युवा दिवस पर युवा ले संकल्प


रिपोर्ट चारोधाम मिश्रा दावथ (रोहतास)

युवा देश की रीढ़ की हड्डी होते हैं। अगर रीढ़ की हड्डी ही रोगी हो जाये तो फिर हमारा शरीर सीधा खड़ा नहीं रह सकता एवं न ही उसका विकास हो सकता है। हमें इस बात को याद रखना पड़ेगा कि सिर्फ युवा ही देश या समाज पर आये संकट का सामना करने में समर्थ होते हैं। इतिहास इस बात का गवाह है कि जब भी हमारे देश पर कोई भयानक संकट आया है तो उसका मुकाबला सदा युवा वर्ग ने ही किया है। युवाओं ने ही तूफान बन कि दुखों के इन बादलों को संसार पर बरसने से रोका है। 

अगर युवा जागृत एवं चेतन होंगे तो फिर उनका भविष्य कभी भी अंधकारमयी नहीं हो सकता। बल्कि वह प्रातःकालीन सुबह की भांति उज्जवल ही होगा।

आज का भारत युवा भारत है। देश की आबादी का लगभग 65 प्रतिशत युवाओं का है। भारत में युवाओं की बढ़ रही संख्या विदेशियों में हलचल पैदा कर रही है। चीन एवं फ्रांस इस बात से बहुत चिंतित हैं 2050 तक भारत देश में सब से ज्यादा युवा होंगे एवं भारत एक महाशक्ति के रूप में उभरेगा। 

विश्व के विद्वान् आज भी भारतीय संस्कृति को विश्व संस्कृति के रूप में देख रहें हैं। क्योंकि भारतीय संस्कृति वसुधैव कुटुंबकम एवं सर्वे सुखिनः सन्तु का भाव व्यक्त करती है। 

हम सभी इस बात से अच्छी तरह वाकिफ हैं कि आजादी की लड़ाई में अपना सर्वस्व बलिदान करने वाले ज्यादा युवा ही थे। जिन्होंने इस राष्ट्र के लोगों के अंदर क्रांति के बीजों को रोपित किया। हमारा इतिहास इस बात का साक्षी है कि इस धरा की प्यास को शांत करने वाले भगीरथी युवा ही थे। जिन्होंने अपने निरंतर परिश्रम से गंगा को स्वर्ग से इस पृथ्वी पर उतारा।

रावण के आतंक को ख़त्म करने के लिए प्रभु श्री राम जी ने युवा अवस्था में ही संकल्प लिया था। अपने अत्याचारी पिता को चुनौती देने वाले प्रह्लाद भी युवा ही थे। कंस के विरुद्ध जनसमूह को जागृत करने वाले भगवन श्री कृष्ण युवा ही थे। उन्होंने न सिर्फ कंस का उद्धार किया बल्कि पांडवो के सहयोग से एक शक्तिशाली राजतन्त्र की स्थापना भी की थी। उन्होंने जरासंध, दुर्योधन जैसे अनेकों पापी राजाओं का अंत करके एक नए शासनतंत्र की स्थापना की थी। आज भारतीय युवाओं को आगे आना होगा और युवा दिवस स्वामी विवेकानंद जी के जयंती पर शपथ लेना होगा,की देश मे राष्ट्रवादी सिद्धान्तों को लाना होगा।जो सपना विवेकानंद जी ने देखा था ,यदिउसे भारतीय युवा पूरा करना होगा तो हर क्षेत्र में युवाओं की भागीदारी सुनिश्चित किया जाना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!