Breaking News

राहुल हत्या कांड का हुआ उद्भेदन ‌-सुपारी किलरो से मित्र हिमांशु को बचाने में गई जान, दो कट्टा बरामद


बिक्रमगंज
(रोहतास)। बिक्रमगंज के आस्कामिनी मंदिर के समीप विगत 6 जनवरी को मध्य रात्रि में राहुल हत्याकांड का उद्भेदन पुलिस ने कर लिया । इसे चुनौती के रूप में स्वीकार करते हुए रोहतास पुलिस अधीक्षक आशीष भारती ने बिक्रमगंज एसडीपीओ शशि भूषण एवं थानाध्यक्ष मनोज कुमार सहित अन्य पुलिस अधिकारियों का टीम गठित कर राहुल हत्याकांड का उद्भेदन किया । थानाध्यक्ष मनोज कुमार ने बताया कि डेहरी थाना क्षेत्र के प्रयाग बिगहा निवासी नरेंद्र प्रसाद सिंह के पुत्र प्रिंस का नोखा थाना क्षेत्र के कृष्णापुर निवासी अरुण सिंह के पुत्र हिमांशु के साथ किसी बात को लेकर विवाद चल रहा था । हिमांशु की हत्या कराने के लिए प्रिंस ने नीतीश एवं रॉकी नामक दो शार्प शूटरों को 4 लाख का सुपारी दिया था । राहुल, प्रिंस, हिमांशु एवं नीतीश आपस में एक दूसरे के संपर्क में थे । डेहरी ऑन सोन सहित बिक्रमगंज इन लोगों का मिलना जुलना होता रहा है । काफी रैकिंग करने के पश्चात बिक्रमगंज में नीतीश एवं रॉकी द्वारा हिमांशु की हत्या का साजिश रचा गया । उसी क्रम में राहुल बीच बचाव में आ गया और हत्यारों द्वारा हिमांशु के लिए चली गोली का शिकार हो गया । घटना को अंजाम देकर नीतीश एवं रॉकी भागने में सफल रहे । वैज्ञानिक दृष्टिकोण के अंतर्गत पुलिसकर्मियों ने प्रिंस को चिन्हित किया । जिसकी गिरफ्तारी के बाद उसके द्वारा बताए गए ठिकाने पर छापेमारी कर मोहनिया से नीतीश एवं दुर्गावती से रॉकी को गिरफ्तार किया गया । बताया जा रहा है कि सभी अपराध की दुनिया में पांव जमा चुके हैं । थानाध्यक्ष ने बताया कि उक्त अपराधी रॉकी और नीतीश हसनबाजार हाल्ट समीप हथियार को छुपा कर रखा था । उन दोनों अपराधियों के निशानदेही पर उक्त स्थल से दो कट्टा बरामद किया गया । उन्होंने बताया कि मामले में संलिप्त तीनों अपराधियों को जेल भेज दिया गया ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!