Breaking News

3 दिन से रिमझिम बारिश से तीसरे दिन अचानक बदल दी करवट तेज आंधी और गड़गड़ाहट से जमकर गिरे ओले आमजन किसान हुआ बेसहारा


उन्नाव जिला ब्यूरो अवधेश कुमार की रिपोर्ट
 

उन्नाव जनपद में मौसम विभाग की चेतावनी पूर्वांचल दिशा अनुसार दिनांक 6 जनवरी से कुछ रिमझिम बारिश और तेज आंधी का मौसम चल रहा था । दिनांक 6 और 7 जनवरी मौसम विभाग की चेतावनी अनुसार रिमझिम बारिश और तेज हवा के साथ गुजर गए । 

वहीं दूसरी और दिनांक 8 जनवरी सुबह से ही मौसम अचानक करवट बदल दी जनपद उन्नाव के कई क्षेत्रों में तेज बारिश और तेज आंधी चलने और तेज बारिश के साथ साथ जनपद उन्नाव के थाना फतेहपुर 84 के कई जगह आकाशीय बिजली गिरने से 10 भेड़ों की मौत हो गई । 

वहीं दूसरी ओर जनपद उन्नाव के विकासखंड सफीपुर क्षेत्र जमुनिहां कच्छ, खुसरूपुर, भिखारीपुर, धन्नापुरवा ,रनियामऊ, कुटी खुसरूपुर, पाल्हेपुर, मेदपुरवा, रायपुर, दबौली अवस्थी खेड़ा आदि क्षेत्र अंतर्गत मौसम विभाग की करवट बदलते ही दिनांक 8 जनवरी को रात्रि 11बजे मौसम विभाग करवट बदलते ही जमकर गिरे ओले और गरीब आम जनमानस किसानों पर मौसम विभाग ने जमकर बरसाया अपना कहर। मौसम विभाग के बदलते हैं ओले के गिरने से गरीब आम जनमानस किसान भाइयों को भारी नुकसान देखने को मिला। एक तरफ तो किसान अपनी रोजी-रोटी को पहले से ही खाने को मजबूर था । वहीं दूसरी ओर कोविड-19 जैसी भयंकर बीमारी से जूझ रहा है । गरीब किसान जैसे तैसे अपना और अपने परिवार का पालन पोषण कर रहा था । वहीं दूसरी और मौसम विभाग के करवट बदलते ही गरीब किसानों में एक बार फिर मचा दी तबाही । एक तरफ गरीब किसान अपनी फसल बुवाई और जोताई से फुर्सत होकर अपनी फसल की रखवाली और अपनी फसल को पानी दे रहा था।

 लेकिन शायद ऊपर वाले को यह भी मंजूर नहीं था गरीब किसानों से उनका वह भी निवाला छीन लिया। गरीब असहाय किसान मजदूरों एक ही मात्र सहारा था। वह भी चला गया समस्त किसान भाइयों ने सरकार से गुहार लगाई है।

 किसानों की फसलों के हुए भारी नुकसान को देखते हुए सरकार अपने क्षेत्रीय लेखपाल और तहसील उप जिलाधिकारियों से क्षेत्रीय गरीब किसानों की फसलों का सर्वे कराकर किसानों में हुए नुकसान को देखते हुए किसानों की भरपाई अवश्य कराएं ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!