Breaking News

कोविड रोकथाम के लिए 06224-260220 पर बनाया गया नियंत्रण कक्ष


वैशाली जिला ब्यूरो एवं अमरेश कुमार की रिपोर्ट

हाजीपुर:- अपर समाहर्ता वैशाली श्री जितेन्द्र प्रसाद साह की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए बनाये गये सभी कोषांगों के वरीय पदाधिकारी एवं नोडल पदाधिकारियों की एक महत्वपूर्ण बैठक सम्पन्न हुई। जिसमें निदेश दिया गया कि सभी पदाधिकारी अपने अपने कोषांगों के कार्यों की प्रति दिन समीक्षा करें और निर्गत निदेश का अनुपालन करायें। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमण के मामले को नियंत्रित करने , होम आईसोलेशन के पहचान एवं प्रबंधन एवं बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए संक्रमण की जाँच , संक्रमित व्यक्ति को आईसोलेशन सेन्टर में लाने , संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए व्यक्तियों की कन्टेक्ट-ट्रेसिंग संक्रमण के स्थल को सेनेटाईज करने , संक्रमण के स्थल को माइक्रो कन्टेन्मेट जोन बनाए जाने , होम आईसोलेशन में रह रहे लोगों की प्रतिदिन मोनिटरिंग तथा इस पूरी प्रक्रिया के अनुश्रवण हेतु कोषागों एवं जिला नियंत्रण कक्ष टॉल फ्री नं. 180003456616 एवं 104 तथा 06224260220 पर (सदर अस्पताल, हाजीपुर) की स्थापना करायी गयी है। 

नियंत्रण कक्ष के वरीय पदाधिकारी के रूप में श्री हरेन्द्र राम,जिला पंचायती राज पदाधिकारी,वैशाली मो०- 9472980337 एवं नोडल पदाधिकारी के रूप में श्री विशाल,परीक्ष्यमान वरीय उप समाहर्त्ता,वैशाली मो०-8584017233 के साथ-साथ अन्य पदाधिकारी, कर्मी,कम्प्यूटर ऑपरेटर की प्रतिनियुक्ति की गयी है। उन्होंने कहा कि प्रतिनियुक्त चिकित्सक कर्मियों को निदेश दिया गया है कि निर्धारित समयानुसार सदर अस्पताल, हाजीपुर जिला नियंत्रण कक्ष में उपस्थित कहकर नियंत्रण कक्ष के वरीय पदाधिकारी के निर्देशानुसार होगा। आइसोलेशन में रह रहे संक्रमित व्यक्तियों से उनके स्वास्थ्य तथा उपलब्ध सुविधाओं के संबंध में अद्यतन स्थिति प्रतिदिन जानकारी प्राप्त कर पंजी में दर्ज करेंगे तथा वरीय पदाधिकारी के निदेशानुसार अग्रेतर कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे। होम आईसोलेशन में रह रहे संक्रमित से अन्य जानकारी के आलावा यह जानकारी भी अवश्य प्राप्त करें जैसे खाँसी - जुकाम,बुखार इत्यादि परिवार में अन्य व्यक्तियों की टेस्टींग हुई है कि नही कन्टेन्मेन्ट जोन बना है कि नहीं।उन्होंने कहा कि कन्ट्रोल रूम में प्राप्त शिकायत की भी एक पंजी संधारित की जाय तथा प्राप्त शिकायत से संबंधित पदाधिकारी यथा प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी,प्रखंड कर्मी को सूचित किया जाए तथा इस पर की गयी कार्रवाई को सूचीबद्ध किया जाय। 

होम आईसोलेशन में रह रहे कोरोना संक्रमितों से पूछताछ के क्रम में यदि यह जानकारी मिलती है कि उनके स्वास्थ्य की स्थिति अच्छी नहीं है तो इसकी सूचना संबंधित प्रखंड के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को दी जायेगी।वे पीड़ित के घर पर क्यूएमआरटी भेजकर स्वास्थ्य जाँच सुनिश्चित करेंगे।जिला नियंत्रण कक्ष के सुव्यवस्थित संचालन में किसी भी प्रकार की शिथिलता के गंभीरता से लिया जायेगा।तथा एपेडमिक डिजीज एक्ट 1897 तथा आपदा प्रबंधन अधिनियम की सुसंगत धाराओं के अन्तर्गत दोषी पदाधिकारी/कर्मी के विरूद्ध अनुशासनिक कार्रवाई की जायेगी।

बैठक में अपर समाहर्त्ता के साथ निदेशक डीआरडीए श्री संजय कुमार निराला,जिला परिवहन पदाधिकारी श्री जय प्रकाश नारायण,जिला आपूर्ति पदाधिकारी श्री अरूण कुमार सिंह,डीसीएलआर सदर श्री स्वप्निल,सिविल सर्जन,जिला शिक्षा पदाधिकारी , जिला पंचायतीराज पदाधिकारी , जिला कल्याण पदाधिकारी , डीपीओ आईसीडीएस , सहायक निदेशक बाल संरक्षण ईकाई वैशाली सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!