Breaking News

घर-घर जाकर दी जाएगी वृद्धजनों को कोविड टीकाकरण की प्रिकॉशन डोज


वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा की रिपोर्ट

  • 15 से 18 वर्ष के किशोर किशोरियों का होगा सर्वे
  • •आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर करेंगी सर्वे
  • •स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव तथा समाज कल्याण विभाग के प्रधान सचिव ने जारी किया निर्देश

हाजीपुर/चौथी वाणी। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिले में विभिन्न स्तर पर स्वास्थ्य विभाग के द्वारा प्रयास किया जा रहा है। इसके प्रति सुरक्षा प्रदान करने के लिए टीकाकरण अभियान को तेज किया गया है। अब 60 वर्ष तथा उससे अधिक उम्र के बुजुर्गों को प्रिकॉशन डोज दी जा रही है। इसके साथ ही 15 से 18 वर्ष तक के किशोर किशोरियों का भी टीकाकरण किया जा रहा है। इसी कड़ी में स्वास्थ्य विभाग और समाज कल्याण विभाग के द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि 60 वर्ष तथा उससे अधिक उम्र के सभी बुजुर्गों को घर-घर जाकर प्रिकॉशन डोज दिया जाएगा। इसके साथ ही 15 से 18 वर्ष के लाभार्थियों का सर्वे भी किया जाएगा। आंगनबाड़ी सेविका द्वारा घर-घर जाकर टीकाकरण कराया जायेगा तथा 15 से 18 वर्ष के लाभार्थियों का सर्वे किया जायेगा। इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत तथा समाज कल्याण विभाग के प्रधान सचिव संदीप पौण्डरीक ने संयुक्त रूप से पत्र जारी कर सिविल सर्जन तथा जिला अधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिया है। पत्र के माध्यम से निर्देश दिया गया है कि सभी योग्य वृद्धजनों, पेंशनरों (60 अथवा इससे अधिक आयुवर्ग) को प्रखंडवार तथा पंचायतवार रोस्टर तैयार कर उन्हें  कोविड 19 के प्रिकॉशन डोज से टीकाकृत्त कराया जाय।

  • जिलास्तर पर प्रतिदिन होगी समीक्षा बैठक:

इस टीकाकरण अभियान के लिए विशेष कार्ययोजना जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, जिला सामुदायिक उत्प्रेरक एवं सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा के द्वारा संयुक्त रूप से तैयार किया जायेगा। इसके साथ ही सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा जिला स्तर पर प्रतिदिन आयोजित होने वाले संध्याकालीन समीक्षात्मक बैठक में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करेंगे तथा दैनिक अद्यतन प्रतिवेदन उपलब्ध करायेंगे।

  • 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के टीकाकरण से वंचित लाभार्थियों का आंगनवाड़ीवार सूची तैयार होगा:

पत्र में कहा गया है कि 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के लाभार्थियों का कोविड 19 टीकाकरण (कोवैक्सिन) का आच्छादन कम है। इसके लिए आवश्यक है कि इस श्रेणी के लाभार्थियों के आच्छादन में सुधार लाया जाय। इसके लिए समेकित बाल विकास योजनान्तर्गत कार्यरत आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ताओं के सहयोग से एक सप्ताह के अन्दर घर - घर जाकर 15 से 18 वर्ष आयुवर्ग के टीकाकरण से वंचित लाभार्थियों का आंगनवाड़ीवार सूची तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं। प्राप्त सूची के अनुसार सूक्ष्म कार्ययोजना तैयार कर उनका टीकाकरण कराने हेतु एक ए.एन.एम. को दो आंगनवाड़ी केन्द्र से संबद्ध करते हुये कोविड 19 के टीका से आच्छादित सुनिश्चित कराने की बात कही गयी है। इसके साथ ही उक्त कार्य की सभी स्तर पर सघन अनुश्रवण एवं पर्यवेक्षण कराना सुनिश्चित किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!