Breaking News

रमेश चौरसिया बने वैशाली जिला परिषद अध्यक्ष,सुंदर माला बनी उपाध्यक्ष,लगा बधाई का तांता


हाजीपुर(वैशाली) जिला परिषद अध्यक्ष पद पर रमेश चौरसिया और उपाध्यक्ष पद पर सुंदरमाला देवी ने कब्जा जमाया। कुल 41 सदस्यीय जिला परिषद में अध्यक्ष पद पर रमेश चौरसिया को 21 और उनके प्रतिद्वंद्वी आशुतोष कुमार उर्फ दीपू गुप्ता को 20 मत प्राप्त हुआ। वहीं उपाध्यक्ष पद पर सुंदरमाला देवी को 22, उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी मनीष शुक्ला को 16 तथा दीपक कुमार को 3 वोट प्राप्त हुआ। स्थानीय समाहरणालय सभागार में जिलाधिकारी सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी पंचायत उदिता सिंह ने निर्वाचित अध्यक्ष और उपाध्यक्ष को जीत का प्रमाण पत्र देकर पद एवं गोपनीयता की शपथ दिजाई। इस मौके पर राज्य निर्वाचन आयोग से नियुक्त प्रेक्षक मुजफ्फरपुर के एडीएम राजस्व राजेश कुमार एवं अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।जिला परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष चुनाव के पहले सभागार में जिलाधिकारी उदिता सिंह ने सभी सदस्यों को सदस्यता एवं आजीवन नशापान नहीं करने की शपथ दिलाई। शपथ ग्रहण के बाद अध्यक्ष पद के लिए नामांकन की प्रक्रिया शुरू हुई। जिसमें आशुतोष कुमार उर्फ दीपू गुप्ता ने पहला नामांकन किया। जिला पार्षद नेमधारी राय उनके प्रस्तावक बने। इसके बाद रमेश चौरसिया ने दूसरा नामांकन किया। जिला पार्षद प्रदीप कुमार राय प्रस्तावक और रामबाबू चौधरी समर्थक बने थे। नामांकन के लिए दस मिनट का समय दिया गया था। इस अवधि में इस पद पर केवल दो ही नामांकन प्राप्त होने के बाद प्रपत्रों की जांच की गई और पुन: नाम वापसी के लिए समय की घोषणा की गई। किसी के नाम वापस नहीं लेने पर अध्यक्ष पद के दोनों उम्मीदवारों के बीच गुप्त मतदान कराया गया। मतदान प्रक्रिया समाप्ति के बाद मतगणना में रमेश चौरसिया को 21 और आशुतोष कुमार उर्फ दीपू गुप्ता को 20 मत प्राप्त हुआ।इसी तरह उपाध्यक्ष पद पर सुंदरमाला देवी, मनीष शुक्ला एवं दीपक कुमार तीन उम्मीदवारों ने नामांकन किया। मतदान में सुंदरमाला देवी को 22, मनीष शुक्ला को 16 और दीपक कुमार को 3 मत प्राप्त हुआ। इसके बाद रमेश चौरसिया अध्यक्ष और सुंदरमाला देवी उपाध्यक्ष पद पर निर्वाचित घोषित किए गए। डीएम ने निर्वाचित अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष को प्रमाण पत्र सौंपा। इस मौके पर अपर समाहर्ता जितेंद्र प्रसाद साह, जिला पंचायत राज पदाधिकारी वकील प्रसाद सिंह, जिला आपूर्ति पदाधिकारी अरुण कुमार सिंह, अनुमंडल पदाधिकारी अरुण कुमार, डीसीएलआर स्व्पनिल सहित अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित थे।


कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!