Breaking News

विवाहिता की हत्या कर शव को गायब कर देने का मामला आया सामने


वैशाली सहदेई बुजुर्ग संवाददाता नवीन कुमार सिंह की रिपोर्ट 

सहदेई बुजुर्ग - देसरी थाना के मुरौवतपुर पंचायत के वार्ड संख्या 12 में एक विवाहिता की हत्या कर परिजन द्वारा हत्या कर शव को गायब कर देने का मामला सामने आया है।पुलिस ने शव को अधजली हालत में मुरौवतपुर स्थित गंगा नदी के काली मंदिर घाट से बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।आरोपी पति सहित तीन को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

इस सम्बंध में मिली जानकारी के अनुसार देसरी थाना के मुरौवतपुर पंचायत के वार्ड संख्या 12 में एक सनकी पति ने अपनी पत्नी 32 वर्षीय लालमुनि देवी की हत्या कर दिया।शव को गायब करने की नीयत से सोमवार की रात में शव को जलाकर अधजली हालत में नदी के फेंक दिया।मंगलवार की अहले सुबह जब इस घटना की जानकारी लालमुनि देवी के मायके बालों को हुई तो घटना की जानकारी देसरी थाना की पुलिस को दी गई।

घटना के संबंध में जानकारी देते हुए मृतक लालमुनी देवी के पिता बेगूसराय जिला के बछवारा थाना क्षेत्र के गोपालपुर गांव निवासी परमेश्वर पाल के अनुसार उनकी पुत्री की हत्या कर शव को परिजनों द्वारा गायब किया गया है।उन्होंने बताया कि उनकी पुत्री की हत्या की जानकारी मंगलवार की भोर में स्थानीय लोगों द्वारा दी गई।उन्होंने बताया कि उनकी पुत्री को दो पुत्र 11 वर्षीय रवि कुमार एवं 8 वर्षीय किशन कुमार है।मृतक लालमुनि देवी के पुत्र रवि कुमार ने भी बताया कि उसकी माता की हत्या डंडा से मार कर पिता एवं अन्य परिजनों द्वारा कर दी गई।सास उत्तम देवी ने भी बहु की हत्या की बात स्वीकार करते हुय इसके लिए अपने दिमागी रूप से कमजोर पुत्र को दिया।उसने कहा कि शव को उसके पति और पुत्र ने नदी किनारे किनारे ले जाकर जला दिया है।

वहीं घटना स्थल से मिली जानकारी के अनुसार लालमणि देवी की हत्या डंडे से मार कर कर दी गई और परिजनों द्वारा शव को जलाकर साक्ष्य मिटाने का प्रयास किया गया।जहां लालमुनि देवी की हत्या की गई वहां जमीन पर गिरे हुए खून के निशान को मिटाने के लिए जमीन को लेप दिया गया।साथ ही खून से सने हुय कपड़े को एक परित्यक्त शौचालय की टँकी में फेंक दिया गया।

घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे देसरी थाना अध्यक्ष धनंजय चौधरी ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी पति संजय राउत एवं सास उत्तम देवी और ससुर वशिष्ठ राउत को गिरफ्तार कर लिया है।उन्होंने घटना स्थल पर घर की पूरी तलाशी ली।पुलिस ने शौचालय की टंकी में रखे गए खून से सने हुए कपड़े को बरामद करते हुये जांच के लिए ले गई है।जहां पर जमीन को लेप कर खून के दाग मिटाने का प्रयास किया गया था वहां से भी पुलिस जांच हेतु मिट्टी का नमूना ले गई है।देसरी थाना की पुलिस के अनुसार विवाहिता के शव को मुरौवतपुर स्थित गंगा नदी के किनारे काली मंदिर घाट के पास नदी के पानी से अधजली हालत में मंगलवार की दोपहर में बरामद कर लिया गया है।पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया है।पुलिस के अनुसार घटना को लेकर मृतक महिला के परिजनों द्वारा पति,सास,ससुर सहित पांच आरोपियों के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

स्थानीय लोगों के अनुसार घटना का मुख्य आरोपी पति संजय राउत मानसिक रूप से थोड़ा कमजोर है।इस कारण उसकी पत्नी उसके साथ नहीं रह रही थी।वह कुछ दिनों पूर्व ही यहां अपने मायके से आई थी।लोगों के अनुसार शव को जलाने के लिये ले जाने की घटना वहां आसपास लगे सीसीटीवी में कैद हो गया है।सीसीटीवी में चार लोग शव को सोमवार की रात 12.30 बजे के आसपास ले जाते हुय दिख रहें हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!