Breaking News

जमुई नगर में व्यवहार न्यायालय पहुंच पथ को अवरुद्ध किए जाने की निंदा।


जमुई से सुशील कुमार की रिपोर्ट

जिला विधिज्ञ संघ के अध्यक्ष अश्विनी कुमार यादव की अध्यक्षता में संगठन के कार्यकारिणी की महत्वपूर्ण बैठक आहूत की गई, जिसमें गत 23 फरवरी को बिहार के मुख्यमंत्री के निर्धारित कार्यक्रम के मद्देनजर जमुई नगर स्थित व्यवहार न्यायालय पहुंचने वाले तमाम पथों को जिला प्रशासन के द्वारा बंद किए जाने की निंदा की गई। अध्यक्ष श्री यादव ने संवाददाता सम्मेलन आयोजित कर इस आशय की जानकारी देते हुए कहा कि गत 23 फरवरी को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जमुई आगमन को लेकर जिला प्रशासन के द्वारा व्यवहार न्यायालय से सम्बंधित तमाम पहुंच पथों को अवरुद्ध किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने जिला प्रशासन के इस अहितकारी निर्णय की निंदा करते हुए कहा कि इससे जहां विद्वान अधिवक्ता, पक्षकार एवं मैट्रिक परीक्षार्थियों को भारी कठिनाई का सामना करना पड़ा वहीं आमजन भी दैनिक कार्यों के लिए बाजार आने हेतु खासे परेशान नजर आए। उन्होंने अनुमंडल पदाधिकारी के द्वारा कई अधिवक्ताओं के साथ दुर्व्यवहार किए जाने की जानकारी देते हुए कहा कि जिला विधिज्ञ संघ इसकी घोर भर्त्सना करती है। श्री यादव ने जिला प्रशासन के इस जनविरोधी निर्णय की जानकारी तकनीकी माध्यम से पटना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश, निरीक्षी न्यायाधीश, बार कौंसिल ऑफ इंडिया तथा बिहार बार कौंसिल पटना को दिए जाने की जानकारी देते हुए कहा कि सम्बंधित कार्यालय यथोचित कार्रवाई करे ताकि भविष्य में इसकी पुनरावृति न हो।

महासचिव विपिन कुमार सिन्हा, कोषाध्यक्ष प्रदीप कुमार सिंह, अधिवक्ता रूपेश कुमार सिंह, संगम जी आदि लोग मौके पर उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!