Breaking News

बिहार के विकास के बिना विकसित देश परिकल्पना बेईमानी होगी --जदयू नेता मोती


शिवहर ब्यूरो अरूण कुमार साह की रिपोर्ट

शिवहर---जदयू जिला उपाध्यक्ष व प्रिंस गैस एजेंसी पिपराही के मालिक नेयाज अहमद उर्फ मोती बाबू ने देश के प्रधान नरेंद्र मोदी को बिहार पर ध्यान देने का आग्रह किया है।

जदयू जिला उपाध्यक्ष नेयाज अहमद उर्फ मोती बाबू ने प्रधानमंत्री का ध्यान आकृष्ट करते हुए कहा है कि विकास पुरुष मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने बलबूते बिहार जैसे एक पिछड़े राज्य को काफी विकसित किया है। पिछले 16 सालों से बिहार में बहुत कुछ बदला है परंतु संसाधनों की कमी की वजह से बिहार के विकास को जो गति मिली चाहिए वह नहीं मिल रहा है।

जदयू नेता मोती बाबू ने प्रधानमंत्री का ध्यान आकृष्ट कराते हुए बताया है कि नीति आयोग के रिपोर्ट के अनुसार बिहार अभी भी विकास के कई पहलुओं पर पिछड़ा है जो कि और व्यवहारिक है, नीति आयोग ने विकास के पैमाने को मापने में बेईमानी की है। हम सबको याद है कि आज से 15 साल पहले बिहार किस स्थिति में था, बिहार का नाम सुनते ही लोग भयावह हो जाते थे परंतु मुख्यमंत्री ने बिहार को संसाधनों के अभाव के बावजूद एक विकसित राज्य की पंक्ति में खड़ा किया।

उन्होंने बताया है कि अंतर्राष्ट्रीय वह भौगोलिक स्थितियों के कारण प्रतिवर्ष बिहार बाढ़ ,सुखाड़, व्रजपात, अतिवृष्टि, ओलावृष्टि एवं आपदाओं से जूझता रहा है ।इन कारणों से प्रत्येक वर्ष बिहार का नुकसान हजारों करोड़ों में होता है। 

बिहार में बाढ़ एवं सूखा की समस्या से फसल भी नष्ट होती है और जान माल का नुकसान भी उठाना पड़ता है ।इन सब के बावजूद मुख्यमंत्री ने हर घर शिक्षा, सड़क ,बिजली, शुद्ब जल एवं अन्य सैकड़ों सहुलते बिहार के लोगों तक पहुंचाया है जो शायद ही पहले किसी व्यक्ति की सींच रही है।

जदयू नेता नियाज अहमद उर्फ मोती बाबू ने देश के प्रधानमंत्री से निवेदन किया है कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा अति शीघ्र दिया जाए ताकि बिहार भी राष्ट्रीय औसत को छू ले। बिहार के विकास के बिना विकसित देश परिकल्पना बेईमानी होगी।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!