Breaking News

मोबाइल टावरों में चोरी करने वाले गिरोह को पुलिस ने किया गिरफ्तार

 


हापुड़ से विशू अग्रवाल की रिपोर्ट

 मोबाईल टावरो में चोरी करने वाले दिल्ली निवासी गिरोह के बदमाशों को पुलिस ने गिरफतार कर पर्दाफाश किया है। एसपी दीपक भूकर ने पत्रकारो को जानकारी देते हुए बताया कि गिरफतार शातिरो को जेल भेजा गया है। जिनके पास से विभिन्न टावरों से चोरी के सवा करोड़ रूपये के मूल्य सामान बरामद हुआ है। आरोपितो के कब्जे से एक चोरी के ब्रेजा कार डीएल 3 सीसीई 2584 भी बरामद की गयी है। एसपी ने बताया कि पुलिस को लगातार मोबाईल टावरो पर चोरी की सूचनाएं प्राप्त हो रही थी । इसी कडी में टावरो की चौकसी बढा दी गयी थी। रात्रि मेें हापुड़ कोतवाली पुलिस व एसओजी के दरोगा धर्मेन्द्र सिंह , पारस मलिक टीम के साथ गश्त कर रहे थे। ग्राम अच्छेजा के जंगल में स्थित रिलायन्स जियो टावर में चोरी करते दिल्ली के मण्डावली निवासी अमन, समद व कासिम को घेराबन्दी कर गिरफतार किया गया।


 अभियुक्तो के पास से मिली लाल रंग की कार से मंहगी सात मोबाईल टावर बैट्री, दो राउटर टावर बैट्री, एक कूलिंग फैन टावर, 6 बन्डर फाइबर केबिल, 69 आरएफबीटीएस कार्ड, दो मोबाईल फोन, 1821 छोटी चिप व 344 बडी चिप आदि सभी की कीमत लगभग 1.25 करोड़ रूपये बरामद हुए है। दरोगा महराज सिंह व महन्तराज यादव ने बताया कि गिरफतार आरोपितो ने सख्ती से पूछताछ में कबूल किया कि गिरोह उत्तर प्रदेश के अन्य जनपदो में भी मोबाईल टावरो में चोरी करता है। पिछले दिनो जनपद अमरोहा के गजरौला तथा ग्राम सिखैडा के मोबाईल टावरो से कीमती सामान चुराया था। कई टावरो से चोरी हुए इकट्ठे माल को बेचने के लिए कबाडियो से सौदा होता है। ज्यादा कीमत देने वाले कबाडी को सामान बेचा जाता है। पुलिस बदमाशो से जानकारी इकट्ठा कर चोरी का माल खरीदने वाले कबाडियो को भी तलाश रही हैै। वो फर्जी नम्बर प्लेट लगाकर कार भी कबाडी को बेच देते लेकिन उससे पूर्व ही हापुड पुलिस के हत्थे अन्तर्राज्यीय चोर चढ गये। पुलिस गैंग के अन्य सदस्यो को भी ढूंढ रही है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!