Breaking News

अपराधियों के बड़े गिरोह का भंडाफोड़: जमूई एसपी


जमूई से सुशील कुमार की रिपोर्ट

जमुई पुलिस ने एक बार फिर दम दिखाते हुए अपराधियों के बड़े गिरोह का भंडाफोड़ किया है। अपराध की घटना को अंजाम देने कि नीयत से डाढ़ा स्थित सिपू सिंह के घर में छः बदमाश एकत्रित हुए थे। गुप्त सूचना के आधार पर एसडीपीओ डॉ. राकेश कुमार के नेतृत्व में गठित टीम ने नामित घर पर छापा मारकर वहां से छः बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। शातिर बदमाशों को दबोचे जाने के बाद पुलिस का मनोबल सातवें आसमान पर है। 

जमुई पुलिस इसे बड़ी कामयाबी के रूप में ले रही है। शौर्यवान पुलिस अधीक्षक डॉ. शौर्य सुमन ने समाहरणालय स्थित कार्यालय प्रकोष्ठ में पत्रकारों को इस आशय की जानकारी देते हुए बताया कि जमुई पुलिस गुप्त सूचना के आधार पर डाढ़ा गांव में छापेमारी कर छः अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उनके पास से लूट का 01 लाख 21 हजार दो सौ रुपये नगद, तीन देशी पिस्तौल, दस कारतूस, छः मोबाइल और अपाची मोटरसाइकिल बरामद किया है। उन्होंने गिरफ्तार अपराधियों की शिनाख्त जमुई थाना अंतर्गत बाबुटोला महिसौड़ी निवासी प्रिंस कुमार, खैरा थाना अंतर्गत सिंगारपुर निवासी बबुआन नयन सिंह, खैरा थाना के ही सगदहा निवासी रौशन कुमार और राजन कुमार, खैरा थाना के डुमरकोला निवासी सुमंत कुमार पांडे तथा शेखपुरा जिला अंतर्गत बरबीघा थाना के रमजानपुर निवासी मंजीत कुमार पासवान के रूप में किए जाने की जानकारी देते हुए कहा कि उक्त सभी अपराधी नरियाना और गिधेश्वर लूटकांड के नामजद थे।

 उन्होंने गिरफ्तार अपराधियों के द्वारा कांड में संलिप्तता की बात स्वीकार कर लिए जाने की जानकारी देते हुए कहा कि उक्त सभी बदमाश कई कांडों में भी नामजद हैं। एसपी डॉ. सुमन ने तल्ख तेवर अपनाते हुए कहा कि अपराधमुक्त जिला हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने बदमाशों को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि अपराध को तौबा कहकर शांति का मार्ग अपनाएं तभी खैर है। डॉ. सुमन ने कानून का सम्मान किए जाने पर बल दिया। एसडीपीओ डॉ. राकेश कुमार के नेतृत्व में गठित टीम में पुलिस अधिकारी चितरंजन कुमार, सिद्धेश्वर पासवान, संजीत कुमार, शंकर दयाल, राजेश रंजन यादव, विगल मुंडा, विजय कुमार, विद्यानंद कुमार, रंजीत कुमार समेत कई पुलिस अधिकारी शामिल थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!