Breaking News

कौशल प्रशिक्षण एवं नियोजन पर एक दिवसीय कार्यशाला


जमूई से सुशील कुमार की रिपोर्ट

  • जिलाधिकारी जमुई श्री अवनीश कुमार सिंह ने दीप प्रज्वलित कर किया कार्यक्रम का शुभारंभ 
  • जीविका कर्मियों को जिलाधिकारी के द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

 दिनांक 17 मार्च 2022 को होटल जेनेक्स ब्रीज़ में कौशल प्रशिक्षण एवं नियोजन पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का शुभारंभ मुख्य अतिथि  जिलाधिकारी जमुई अवनीश कुमार सिंह भा०प्र०से० के द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। 

   कार्यशाला में जीविका जमुई के जिला स्तरीय प्रबंधक,  दसों प्रखण्ड के प्रखंड परियोजना प्रबंधक, क्षेत्रीय समन्वयक, सामुदायिक समन्वयक, लेखापाल, कार्यालय सहायक सहित सौ की संख्या में जीविका कर्मी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन रोजगार प्रबंधक अमित कुमार के द्वारा किया गया।

कार्यक्रम में जिला परियोजना प्रबंधक के द्वारा जीविका जमुई की उपलब्धियों के बारे में विस्तार से चर्चा की गई|  

        मुख्य अतिथि श्री सिंह ने अपने संबोधन में सबसे पहले जीविका जमुई की सभी टीम को जिले में बेहतर कार्य और समाज सुधार अभियान के सफल संचालन के लिए बधाई दिए। उन्होंने जिले में जीविका के प्रयास की भूरि-भूरि सराहना की और कहा की सरकार की कोई भी योजना हो वह जीविका के माध्यम से ग्रामीण इलाकों तक आसानी से पहुँचाया जा रहा है और इसका क्रियान्वयन भी हो रहा है| समाज सुधार  कार्यक्रम में जीविका एक कड़ी का काम कर रही है| इस अवसर उन्होंने अपने एक प्रोजेक्ट पर चर्चा करते हुए बताया की जमुई जिला शुरू से नक्सल प्रभावित रहा है, लेकिन इसमें पहले से बहुत कमी आई है। 153 पंचायत में से मात्र अभी 30 पंचायत ऐसे हैं, जो नक्सल प्रभावित है। उन्होंने भीमबांध से सटे गांव चोरमाहा और गुरमाहा का जिक्र किया और कहा की यहाँ पर विकास की आवश्यकता है| एक विशेष रणनीति के तहत यहां के लोगों को रोजगार और अन्य विकास कार्यों से जोड़कर समाज की मुख्य धारा से जोड़ना प्रशासन का मुख्य उद्देश्य है और इस कार्य में जीविका से सहयोग अपेक्षित है। जिला प्रशासन का यह प्रयास रहेगा की अगले पांच साल में यह क्षेत्र नक्सल मुक्त हो जाये। जिलाधिकारी ने जिले में जीविका को रिटेल मार्ट खोलने के लिए जगह चिन्ह्नित करने को कहा है| उन्होंने कहा की इसके लिए बजट आ चुका है और अगले तीन से चार महीने में इसे शुरू कर दिया जायेगा| इस अवसर पर जिलाधिकारी के हांथों सभी जीविका कर्मियों को कोरोना काल में उनके द्वारा किये गये कार्यों के लिए प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।                 

                      रोजगार प्रबंधक अमित कुमार के द्वारा कार्यशाला से संबंधित सभी जानकारी को साझा किया गया। उन्होंने दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि अभी जमुई में युवक एवं युवतियों के लिए दो प्रशिक्षण केंद्र संचालित किए जा रहे हैं। यह पर इनके रहने-खाने से लेकर निःशुल्क प्रशिक्षण की वयस्था है। कार्यशाला में जीविका कर्मियों के द्वारा प्रश्न पूछे गए, जिसका जवाब रोजगार प्रबंधक के द्वारा दिया गया। इस मौके पर जीविका जिला कार्यालय से प्रबंधक जीविकोपार्जन कौटिल्य कुमार, प्रबंधक प्रोक्योरमेंट गौतम कुमार, प्रबंधक वित्त आशुतोष कुमार, प्रबंधक सामुदायिक वित्त राजीव कुमार वर्मा, प्रबंधक आईबीसीबी नवीन कुमार, प्रबंधक एम्एनई अनूप कुमार, प्रबंधक स्वस्थ्य व पोषण शेषनाथ रॉय, प्रबंधक मानव संसाधन अंजलि कुमारी, प्रबंधक संचार सुनीता कुमारी, प्रशिक्षण अधिकारी राजेश लाल, किरण कुमारी, एसजेवाई नोडल हरिकांत कुमार, प्रखंड परियोजना प्रबंधक स्वीटी कुमारी, मनोरंजन कुमार, श्लोक कुमार, धरमवीर कुमार, राजेश कुमार, कमलेश्वरी चौधरी, कृष्णा भरद्वाज, बसंत कुमार, क्षेत्रीय समन्वयक पप्पू रजक, धरमवीर कुमार, लालन कुमार, चन्दन कुमार, ममता कुमारी, मीना पासवान, रितु कुमारी, सुजीत कुमार, रुपेश कुमार, रामविनय कुमार आदि उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!