Breaking News

लोहार को लोहरा,लोहारवा बताकर अधिकार से वंचित की साजिश रच रही सरकार : ललन ठाकुर


हाजीपुर
(वैशाली)जिले के गोरौल प्रखंड क्षेत्र के पिरोई गांव में बिहार अनुसूचित जनजाति युवा मोर्चा वैशाली द्वारा एक बैठक का आयोजन किया गया।जिसमें सुप्रीम कोर्ट के द्वारा दिए गए लोहार जाति के आदेश पर चर्चा करते हुए मोर्चा के पदाधिकारी ललन ठाकुर ने कहा कि भारत देश सन 1947 में आजाद हुआ।सन 1949 में संविधान बनाया जा रहा था तो उस समय के सरकार के द्वारा एक आदेश सभी राज्य को जारी किया गया था कि अपने-अपने राज्य में जो भी कमजोर वर्ग के शैक्षणिक स्थिति काफी कमजोर हैं उन लोगों को अनुसूचित जनजाति की श्रेणी में अनुशंसा कर केंद्र सरकार को भेजने की बात कही।उस पत्र के जवाब में बिहार सरकार ने लोहार जाति को अनुशंसा कर केंद्र सरकार को भेजा।1950 में संविधान बना तब भारत सरकार के गजट में अनुसूचित जनजाति कि सूची में क्रम संख्या 20 पर लोहार अंकित है।1956 में भी क्रम संख्या 21 पर लोहार अंकित है। 1976 के अंग्रेजी और हिंदी क्रम संख्या 22 पर अंकित है।भारत के राष्ट्रपति के द्वारा यह अनुशंसा को कानून मानती है जो न्याय संगत है फिर भी लोहार जाति को भारत सरकार ने लोहार,लोहरा एवं लोहारवा बताकर पेंच में फंसा उलझा कर अब लोहार को अधिकारों से वंचित किये जाने की साजिश रच रही है।जबकि भारत देश में लोहारा जाति का कोई नहीं है लोहार का हिंदी में पर्यायवाची शब्द जैसे नगेंद्र को अंग्रेजी में नागेन्द्रा, धर्मेंद्र को धर्मेन्द्रा लिखा जाता है।वहीं जिला अध्यक्ष सुनील कुमार शर्मा ने कहा कि जो जातियां मूल जाती है उसको सरकार आरक्षण देने में कतरा रही है और जो जाति मूल जाति नहीं है उनको सरकार आरक्षण दे रही है। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का आभार प्रकट करते हुए कहा कि बिहार में प्रथम वह मुख्यमंत्री हैं जिन्होंने राष्ट्रपति द्वारा बनाए गए कानून को लागू करने का काम किया है।इसलिए बिहार के तमाम लोहार उनके साथ खड़ा है।इस संकट की घड़ी में माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लोहार समाज को उचित न्याय दिलाएं हैं।बैठक की अध्यक्षता चंद्र भूषण शर्मा ने जबकि संचालन धर्म नाथ शर्मा ने किया।इस मौके पर मधु ठाकुर,दिनेश शर्मा,अधिवक्ता मनोज कुमार शर्मा,लक्ष्मी कांत ठाकुर,ओम प्रकाश शर्मा,विद्यासागर शर्मा,अजय शर्मा,अरुण शर्मा,रामजी विश्वकर्मा, गौतम शर्मा,शत्रुघ्न शर्मा,डॉक्टर नरेंद्र शर्मा, विक्रम ठाकुर,राजगीर शर्मा, मिथिलेश शर्मा,लालबाबू शर्मा,अशोक शर्मा,नीला शर्मा,पूनम शर्मा,मनोज कुमार,दीपक शर्मा,राजेश शर्मा,भूषण शर्मा,देवेंद्र शर्मा,सुरेंद्र शर्मा,सीताराम ठाकुर,रमेश शर्मा,अरविंद ठाकुर, कृष्ण कुमार शर्मा,मंजू शर्मा, रामअवतार शर्मा सुनील शर्मा आदि समेत अन्य गणमान्य उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!