Breaking News

अष्टजाम महायज्ञ के लिए 1051 कुँवारी कन्याओं ने निकाली कलश शोभायात्रा


वैशाली:
पातेपुर प्रखण्ड के दभइच टोला पर हर बर्ष की भांति माँ काली परिसर में आयोजित 24 घंटे के अष्टजाम महायज्ञ के लिए 1051 कुँवारी कन्याओं ने हाथी घोड़े एवम गाजे बाजे के साथ भव्य कलश शोभा यात्रा निकाली.कलश शोभायात्रा सत्यम शिवम सुंदरम यज्ञ समिति के तत्वाधान में निकाली गई .सुबह में ही कुँवारी कन्या गाजे बाजे के साथ दभइच स्थित अति प्राचीन मंदिर बाबा दरवेश्वर नाथ मंदिर पहुँची जहाँ पूर्व से पहलेजा से टैंकर द्वारा मंगाई गई दक्षिण वाहिनी पवित्र गंगा जल को को आचार्य द्वारा मंत्रोचारण से शुद्धिकरण करने के बाद कुँवारी कन्या कलश को अपने माथे पर धारण कर यज्ञ स्थल की ओर लगभग 5 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए पहुँची.इस दौरान कलश यात्रा में यज्ञ समिति के सभी कार्यकर्ता एवम सैकड़ों श्रद्धलुओं ने जयकारा लगाते रहे जिससे मार्ग में भक्तिमय वातावरण का माहौल कायम रहा.ज्योही कलशलेयर कुँवारी कन्या यज्ञ स्थल पहुँची वहाँ पातेपुर पूर्व विधायक श्रीमती प्रेमा चौधरी के द्वारा फीता काटकर उद्धघाटन के बाद कलश को यज्ञ परिसर में स्थापित कराया गया.इस अवसर पर स्थानीय जिला पार्षद सागर सहनी,पूर्व मुखिया सह मुखिया पति वीरेंद्र राय उर्फ बीरू,सरपंच पति श्याम चौधरी,भविक्षण सहनी,अजय साह,मनोज साह,लखेन्द्र सहनी,राम विष्णु सहनी,पूर्व सरपंच त्रिभुवन चौधरी,परीक्षण सहनी,रंजीत सहनी,रघुनाथ सहनी,मनोज पंडित,राम प्रवेश सहनी,के साथ आचार्य सुरेन्द्र झा,प्रधान यजमान राम प्रवेश सहनी,प्रमोद सिंह आदि मौजूद थे.

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!