Breaking News

बिक्रमगंज के शिक्षक डॉ अभिषेक पाण्डेय के मार्गदर्शन में छात्र,छात्रा छू रहे हैं आसमा को।

 


बिक्रमगंज ,दावथ /रोहतास/ मार्गदर्शन शिक्षक समाज में उच्च आदर्श स्थापित करने वाला व्यक्तित्व होता है। किसी भी देश या समाज के निर्माण में शिक्षा की अहम् भूमिका होती है, कहा जाए तो शिक्षक समाज का आइना होता है। हिन्दू धर्म में शिक्षक के लिए कहा गया है कि आचार्य देवो भवः यानी कि शिक्षक या आचार्य ईश्वर के समान होता है। यह दर्जा एक शिक्षक को उसके द्वारा समाज में दिए गए योगदानों के बदले स्वरुप दिया जाता है। शिक्षक का दर्जा समाज में हमेशा से ही पूज्यनीय रहा है। कोई उसे गुरु कहता है, कोई शिक्षक कहता है, कोई आचार्य कहता है, तो कोई अध्यापक या टीचर कहता है ये सभी शब्द एक ऐसे व्यक्ति को चित्रित करते हैं, जो सभी को ज्ञान देता है, सिखाता है और जिसका योगदान किसी भी देश या राष्ट्र के भविष्य का निर्माण करना है। सही मायनो में कहा जाये तो एक शिक्षक ही अपने विद्यार्थी का जीवन गढता है। और शिक्षक ही समाज की आधारशिला है। एक शिक्षक अपने जीवन के अन्त तक मार्गदर्शक की भूमिका अदा करता है और समाज को राह दिखाता रहता है, तभी शिक्षक को समाज में उच्च दर्जा दिया जाता हैं। रसायन शास्त्र के शिक्षक डॉ अभिषेक कुमार पाण्डेय बिक्रम गंज के रहने वाले आज इनके मार्गदर्शन में हजारों छात्र छात्रा आज आसमा को छू रहे हैं। बिहार इंटरमीडिएट परीक्षा 2022 में इनके ही मार्गदर्शन में कोआथ के रहने वाला प्रशांत राज चौधरी ने विज्ञान संकाय में बिहार में 7 वा स्थान प्राप्त किया। कुशल व्यवहार एवं शिष्ट आचरण के चलते ये सभी के बीच काफी लोक प्रिय हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!