Breaking News

भाकपा माले कुर्था प्रखंड कमेटी की एक दिवसीय बैठक में लिए गए कई निर्णय


अरवल जिला ब्यूरो बिरेंद्र चंद्रवंशी की रिपोर्ट

  • जालियांवाला बाग के शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि

भाकपा माले का प्रखंड कमेटी का बैठक के पहले जलियांवाला बाग हत्याकांड के शहीदों के याद में 1 मिनट की  मौन श्रद्धांजलि दी गई। श्रद्धांजलि के बाद भाकपा माले जिला सचिव जितेंद्र यादव, व भाकपा - माले प्रखंड सचिव कॉमरेड महेश यादव।

इस मौके पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बोले कि 13 अप्रैल 1919 को बैसाखी की मेले के मौके पर किसान मजदूर एकजुट होकर अंग्रेजो के खिलाफ जलिया वाला बाग में एक सभा कर रहे थे। उस सभा में अंग्रेज के अहंकारी जनरल डायर अपनी मिलिट्री को लेकर आया और आनाधून गोलियां बरसाना शुरू कर दिया। जिससे सैकड़ों किसानों की मौत हो गई। उसके बाद देश के कोने कोने में अंग्रेज के खिलाफ गुस्सा भड़क उठा और गांव गांव आंदोलन शुरू हो गया था। आंदोलन के दबाव में आकर अंग्रेज़ों को अंतोगत्वा हमारे देश को छोड़कर 1947में भागना पड़ा।

भाकपा माले जिला कमेटी सदस्य सह कार्यालय सचिव कॉमरेड अवधेश यादव ने कहा कि अंग्रेजो से भी ज्यादा खौफनाक मंज़र आज भाजपा - जदयू सरकार में देखने को मिल रही है। आजाद देश में किसानों के ऊपर तरह-तरह के जनविरोधी कानून यह सरकार ला रही है। जिससे आज किसान मजदूर परेशान है।

 आज सत्ता में बैठे भाजपा-जदयू की सरकार रामनवमी के नाम पर जुलूस में एक विशेष समुदाय के लोगों पर हमला तेज करवा कर देश की गंगा - जमुनी तहजीब समाप्त करने में लगी हैं। 

इनौस नेता दीपक कुमार ने कहा कि किसान, मजदूर,छात्र - नौजवान मंहगाई व वेरोजगारी के कारण इस सरकार से काफी परेशान हैं। सरकार के खिलाफ आक्रोश ना भड़के इसे देखते हुए एक विशेष समुदाय पर टारगेट किया जा रहा है।

बैठक में पार्टी विस्तार करने ब्रांच पर लोकल कमेटी को मजबूत करने तथा कल दिनांक 14 अप्रैल को संविधान निर्माता बाबा साहब भीमराव अंबेडकर को जयंती मनाने तथा औरंगाबाद के रफीगंज में 06 दलित लड़कियों के जहर खाने तथा उसमे 04 लड़कियों की मृत्यू होने के मामलों को लेकर के कुर्था बाजार में प्रतिवाद मार्च निकालकर मामले को उच्च स्तरीय जांच कराने सहित औरेंगाबाद के थाना अध्यक्ष को बर्खास्त करने की मांग ऐपवा और माले के द्वारा किया जाएगा।

आज के प्रखंड कमिटी की बैठक व श्रद्धांजलि सभा में भाकपा - माले के जिला सचिव कॉमरेड जीतेंद्र यादव सहित कारु मांझी, संजय मांझी, ऐपवा नेत्री आशा देवी,गणेश यादव, शहजाद अंसारी, आदि मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!