Breaking News

कोनिया गांव स्थित डाकघर के डाकपाल पुष्पलता मैडम सस्पेंड


सोनो जमुई संवाददाता चंद्रदेव बरनवाल की रिपोर्ट

 नक्सल प्रभावित चरका पत्थर थाना क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में बसने वाले लोगों को अब जागरुकता देखने को मिल रही है । चरका पत्थर थाना से महज दो किलोमीटर दूर कोनिया गांव स्थित डाकघर के डाकपाल पुष्पलता मैडम के द्वारा सभी ग्रामीणों से किये जा रहे अवैध वसूली को लेकर ग्रामीणों ने पुष्पलता मैडम के खिलाफ आवाज उठाई और अंततः पुष्पलता मैडम को सस्पेंड कराने में सफलता हासिल की । अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सदस्यों सहित दर्जनों ग्रामीणों ने सर्व प्रथम डाकपाल को समझाने का प्रयास किया लेकिन डाकपाल अपने निति को बदल नहीं पाई और सस्पेंड हो गई । ज्ञात हो कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सदस्यों की अगुवाई में चरका पत्थर थाना क्षेत्र के क्ई गांव के लोगों ने डाकपाल के विरुद्ध कार्रवाई करने के लिए नारेबाजी करते हुए अविलंब सस्पेंड करने की गुहार विभागीय अधिकारियों से की गई , लेकिन विभाग द्वारा डाकपाल के विरुद्ध कोई कार्रवाई नहीं होता देख अंततः बुधवार को सभी लोग झाझा स्थित डाकघर पहुंचकर पुष्पलता मैडम को सस्पेंड करने के लिए एक ज्ञापन डाक निरिक्षक को सोंपते हुए धरने पर बैठ गए और उसके खिलाफ नारेबाजी करने लगे । लिहाजा डाक निरिक्षक ने धरना प्रदर्शन पर बैठे लोगों से रुबरु हुए और हंगामा होता देख पुष्पलता मैडम को सस्पेंड कर दिया । ज्ञात हो कि डाक निरिक्षक झाझा को सोंपे गए आवेदन में कहा गया है कि चरका पत्थर एवं आसपास के गांव के लोगों का किसी भी प्रकार की चिट्ठी , आधार कार्ड , पैन कार्ड , एल आईसी बोंड इत्यादि आती है तो डाकपाल पुष्पलता मैडम के द्वारा जबरन वसूली की जाती है । रकम नहीं देने पर उसके कागजात को फाड़कर फेंक दिया जाता है । धरना प्रदर्शन कर रहे लोगों में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के अध्यक्ष विकास कुमार सिंह , उपाध्यक्ष विनय कुमार यादव , सचिव साजन रविदास , उप सचिव सुरज कुमार ठाकुर , संचालक उतम बरनवाल , तथा सदस्यों में नितीश कुमार , अवधेश कुमार तथा गोलु बरनवाल सहित दर्जनों लोग शामिल थे ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!