Breaking News

लापता शव गांव के कुछ ही दूरी पर मिलने पर मचा हड़कंप


उन्नाव जिला ब्यूरो चीफ अवधेश कुमार की रिपोर्ट

फतेहपुर खालसा मैं एक गांव के कुछ ही दूरी पर बगीचे में 3 दिन बाद शव मिलने से बेकसूर न चढ़ जाएं कानून के शिकंजे पर बेकसूर को सता रहा है डर।

कुछ लोगो ने राजनीति का भाव देकर बेकसूरओ को लिखाने की रच डाली है साजिश। जबकि मौके पर पहुंचे डॉग स्क्वायड टीम ने जब होमवर्क करना चालू किया तो कही और नहीं बल्कि मिले मृतक के शव के घर के आसपास ही घूमता रहा अब बड़ा सवाल उठता दिखाई दे रहा है की खही अब ऐसा ना हो कि राजनीतिक का दम भरकर कई बेकसूरओ को कानून के शिकंजे में फंसा दिया जाए।

गंजमुरादाबाद। लापता होने के तीसरे दिन बी काम के छात्र का शव गांव के बाहर बाग में एक पेड़ से लटकता हुआ पुलिस ने खोजबीन करते हुए बरामद किया। घटना को लेकर परिजनों द्वारा हत्या का आरोप लगाया जा रहा है। पीड़ित परिवार के आरोप पर 10 लोगो को नामित करते हुए पुलिस छानबीन कर रही है। वही ग्रामीणों में घटना के प्रति संशय बना हुआ है। मामले की गम्भीरता को देखते हुए फील्ड यूनिट व डॉग स्कवायड टीम ने भी मौके का निरीक्षण किया । यह घटना आत्महत्या है या फिर हत्या यह तो पोस्टमार्टम के बाद ही पता चल सकेगा लेकिन कुछ लोगों द्वारा इस घटना को सुनियोजित होने की भी आशंका जताई जा रही है।

       बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के गांव फतेहपुर खालसा निवासी 21 वर्षीय रमन पुत्र मुन्नालाल गत 19 अप्रैल की सुबह घर से कहीं लापता हो गया। जिसके बाद शाम को पिता ने थाने पहुचकर गुमशुदगी दर्ज करवाई थी, किन्तु परिजन महज गुमशुदगी से संतुष्ट नही थे। जिससे अगले दिन 20 अप्रैल को पिता ने पुनः पुत्र की हत्या होने की आशंका जताई। जिसपर पुलिस ने 364/3(2)(5)Sc/st एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया था। इसी मामले में गुरुवार को भोर पहर नगर पुलिस चौकी की टीम छात्र की खोजबीन कर रही थी। तभी घर से लगभग एक किलोमीटर की दूरी पर गांव से पूर्वी छोर स्थित राजेंद्र कुशवाहा के बाग में आम के पेड़ से उसका शव लटकता हुआ मिला । जिसके बाद शव को नीचे उतरवाया गया। परिजनों के आरोपो को देखते हुए स्थानीय पुलिस की सूचना पर अपर पुलिस अधीक्षक शशिशेखर सिंह , क्षेत्राधिकारी विक्रमाजीत सिंह, उपजिलाधिकारी अंकित शुक्ला, कोतवाल ब्रजेन्द्र नाथ शुक्ला आदि मौके पर पहुँचे तथा फील्ड यूनिट व डॉग स्क्वायड टीम को बुलाकर जांच की गई।जिसके बाद परिजनों को समझाने के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया गया।शव मिलने के बाद परिजनों द्वारा गांव के ही 10 लोगो को नामित करते हुए हत्या कर देने का आरोप लगाया जा रहा है । जिसपर पुलिस बारीकी से जांच कर रही है। 

       मृतक अपने पिता का एकलौता पुत्र था। जिसने पिहानी हरदोई के नवोदय विद्यालय से 12वी तक शिक्षा ग्रहण की थी जिसके बाद पिछले दो वर्षों से इलाहाबाद में रहकर बी काम की पढ़ाई कर रहा था। मृतक की दो बहनें है जिनकी शादी हो चुकी है।

     इस संदर्भ में अपर पुलिस अधीक्षक शशि शेखर सिंह ने बताया कि दो दिन से लापता छात्र का शव पुलिस ने गांव के बाहर एक बाग से पेड़ पर लटकते हुए बरामद किया है। शव को पोस्टमार्टम हेतु जिला मुख्यालय भेज दिया गया है। हत्या या आत्महत्या की पुष्टि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही हो सकेगी। फिलहाल पीड़ित परिवार की तरफ से 10 लोगों को नामजद करते हुए तहरीर दी गई है। जांच कर आवश्यक कार्यवाही की जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!