Breaking News

मर्जदवा बाजार में ज्वेलरी दुकान में लाखों की चोरी, व्यवसायियों में आक्रोश, घंटों रहा दुकान बंद


रिपोर्ट अक्षय कुमार आनंद बेतिया बिहार

 मैनाटांड़: पुरुषोत्तमपुर थाना क्षेत्र के मर्जदवा बाजार में एक ज्वेलरी दुकान का शटर उठाकर लाखों रुपयें के सोना चांदी व नगदी चोर उड़ा ले गये। घटना शुक्रवार की रात की है। शनिवार की सुबह जब मर्जदवा बाजार के व्यवसायी अपना दुकान खोले तो देखे कि सुखलही  निवासी ईश्वरी प्रसाद  के ज्वेलरी दुकान का शटर  आधा खुला हुआ है। लोग जब दुकान पर पहुंचे तो दृश्य देख कर भौचक रह गये। तिजोरी खुला हुआ है और उसमें का सोना चांदी गायब है। तुरंत इसकी सूचना दुकानदार को दी गयी। ईश्वरी प्रसाद सुखलही से भागे भागे मर्जदवा अपने दुकान पर पहुंचे तो देखे की शटर को रामा से उठा कर ऊपर उठा दिया गया है और घुसकर सोना चांदी के साथ नगदी भी चोरी कर ली गई है। पीड़ित दुकानदार ईश्वरी प्रसाद ने बताया कि लगभग ढाई लाख रुपए का सोना चांदी और पंद्रह हजार रूपये की नगद चोरी कर ली गयी है। तिजोरी में सोना चांदी रखा हुआ था उसको  लोहे के ब्लेड से काट दिया गया है। वहीं चोरों ने सीसीटीवी कैमरे के तार को काटकर चोरी की घटना को अंजाम दिया है। सूचना पर पुलिस पदाधिकारी भी पहुंचे और मामले की छानबीन की। 

  • पुलिस के कार्यशैली पर व्यवसायियों ने उठाये सवाल


मैनाटाड़
। पुरूषोत्तमपुर थाना क्षेत्र के प्रमुख बजार मर्जदवा में शुक्रवार की रात ज्वेलरी की दुकान में चोरी की घटना से शनिवार की सुबह मर्जदवा बाजार के दुकानदार आक्रोशित हो गये। दुकानदारों ने ध्वनि विस्तारक यंत्र से उद्घोषणा कर अपने अपने दुकानों को बंद कर दिया।  आक्रोशित दुकानदार विनोद साह, शेषनाथ साह, अमित साह, मकसूदन साह, विनोद साह, राधे साह, शंभू साह, दिलीप साह, परशुराम प्रसाद, लोहिया रामचंद्र प्रसाद, दीपक कुमार, प्रदीप कुमार, राजू प्रसाद आदि ने  पुरूषोत्तमपुर पुलिस की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए जमकर नारेबाजी करते हुए दुकान को घंटों बंद रखा। दुकान बंदी की सूचना पर पुरुषोत्तमपुर  थाना के पुलिस पदाधिकारी पहुंचे और चोरों को अविलंब गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया तब जाकर मर्जदवा बाजार के दुकानदारों ने अपनी दुकान को चालू किया। आक्रोशित व्यवसायियों ने बताया कि बाजार में शायद ही कभी पुलिस की टीम आती है। जो चौकीदार ड्यूटी पर लगाए गए हैं वे हमेशा नदारद ही रहते हैं। जब ड्यूटी पर आते हैं तो रात 9:00 बजे के बाद सोने के लिए घर चले जाते हैं । पुलिस पर सवाल उठाते हुए कहा कि थाने में दो दो गाड़ी है। लेकिन दोनों गाड़ी बाजार में  शायद ही रात में आती हो। पुलिस वाहन जांच और ओवरलोडेड ट्रैक्टरों से  अवैध वसूली करने में व्यस्त रहती है। बाजार में चोरी की घटना हो जायें उससे पुलिस को क्या मतलब। इसके पूर्व में भी दुकानों में चोरी हुई है। एटीएम का दीवाल भी तोड़ दिया गया था ।उसमें भी पुलिस को कोई सफलता हाथ नहीं लगी ।दुकानदारों ने बताया अगर पुलिस बाजार की सुरक्षा पर विशेष रूप से ध्यान नहीं देती है तो बाध्य  होकर आंदोलन का राह अख्तियार करना पड़ेगा। वहीं पुलिस इंस्पेक्टर सतीश चंद्र माधव ने बताया कि मर्जदवा बाजार में हुई चोरी की घटना का जल्द उद्भेदन कर लिया जायेगा। सीसीटीवी कैमरे का फुटेज खंगाला जा रहा है। थानाध्यक्ष को भी आवश्यक निर्देश दिये गये हैं।हर हाल में चोर को गिरफ्तार कि

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!