Breaking News

उगते सूर्य को अर्घ्‍य देने के साथ ही चैती छठ संपन्न


रिपोर्ट चारोधाम मिश्रा दावथ रोहतास बिहार

लोक आस्था का महापर्व छठ भगवान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही संपन्न हो गया। सुबह करीब 05 बजकर 47 मिनट पर सूर्योदय होने के साथ ही अर्घ्यदान का क्रम आरंभ हो गया था।इसके बाद व्रती व उनके स्वजनों ने भगवान भास्कर को अर्घ्य देकर खुद के लिए और समाज व देश के हित की कामना की।इससे पहले शुक्रवार की अलसुबह से ही श्रद्धालु पास के छठ घाटों पर पहुंचने लगे थे।सूर्यमठ पंचमन्दिर घाटों पर रोशनी की बेहतर व्यवस्था होने से यहां का दृश्य मनोहारी था।  वही कुछ अपनेघर के छत पर छठ व्रत का पूजन किए।

आस्था का महापर्व साल में दो बार कार्तिक माह एवं चैत्र माह में मनाया जाता है। छठ पूजा मुख्य रूप से भगवान सूर्य की उपासना है। यह व्रत करने वाले श्रद्धालु गंगा में, पवित्र नदी में, जलाशय में या घर में गंगा जल मिला कर स्नान करके व्रत का शुभारंभ करते हैं।यह पर्व नहाय खाय से आरंभ होकर चार दिनों तक चलता है। प्रात: कालीन सूर्य को अर्ध्य देकर इस व्रत का पारण होता है। वही सूर्यमठ पंचमन्दिर पर जय बजरंग क्लब पंचमन्दिर के सदस्यों ने रात्रि में चैता का  आयोजन किया था।उसका उद्घाटन दावथ पंचायत के मुखिया चंदन कुमार उर्फ संतोष ने किया। संचालन संजय यादव ने किया।इस अवसर रामध्यान प्रसाद,गोलू दूबे, पिन्टू कुमार,अनिल पासवान,हरेराम यादव,रमेश पाल,  मदन मोहन मालवीय,विकास कुमार, राजू पाल, हरेराम कहार, चंदन कुमार, सुजीत कुमार, संदीप कुमार, सूरज कुमार, संदीप शर्मा, रवि पासवान, सुनील पासवान, जितेन्द्र कुमार, सहित कई लोग उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!