Breaking News

डिजिटल का जो पाठ पड़ेगा, स्वरोजगार की ओर बढ़ेगा :- रवि रंजन




अरवल जिला ब्यूरो वीरेंद्र चंद्रवंशी की रिपोर्ट

कुर्था अरवल पत्रकार //  गवर्मेंट ऑफ इंडिया फ्री कंप्यूटर एजुकेशन हिंदुस्तान शिक्षण संस्थान एवं महिला मंडल कुर्था, नेहरू युवा केंद्र अरवल एवं जन शिक्षण संस्थान वंचित अरवल के संयुक्त तत्वाधान में रेनबो कान्वेंट स्कूल में मुफ्त कंप्यूटर शिक्षा प्रदान किया जा रहा है, रेनबो कन्वेंट स्कूल के प्राचार्य रवि रंजन सर एवं निदेशक संतोष कुमार द्वारा कार्यक्रम का उद्घाटन किया गया, उन्होंने कहा कि आज समय की मांग है इस सभी कोकंप्यूटर शिक्षा बहुत ही अनिवार्य है, वर्नियर कंप्यूटर साक्षर और लगाइए अपने अंदर का आत्मविश्वास, प्रशिक्षक वीरेंद्र प्रसाद चंद्रवंशी ने बताया कि युवा पीढ़ी के लिए कंप्यूटर शिक्षा बहुत ही जरूरी है, तकनीकी शिक्षा प्राप्त करके हम स्वरोजगार की ओर बढ़ सकते हैं, दैनिक जीवन में कंप्यूटर का उपयोग बहुत ही जरूरी हो गया है, संस्था द्वारा कंप्यूटर का निशुल्क प्रशिक्षण दिया जा रहा है एवं प्रमाण पत्र का वितरण भी फ्री में किया जाएगा, भारत का प्रत्येक नागरिक जिसके पास आधार कार्ड हो साक्षर हो या साथ में कक्षा पास हो जिनका उम्र 14 वर्ष से 60 वर्ष तक के सभी वर्गों के लिए एक कंप्यूटर का प्रशिक्षण निशुल्क दिया जा रहा है, रेनबो कान्वेंट स्कूल के संस्थापक रवि रंजन सर ने बताया कि कि हमारी संस्था द्वारा समाज के दबे कुचले वंचित वर्ग के लोगों के लिए एक विशेष कार्यक्रम चलाया जा रहा है हमारे स्कूल में भी गरीब गुरुओं को मजदूरों को मुफ्त में शिक्षा दिया जा रहा है स्कूल ड्रेस किताब सबकुछ निशुल्क वितरण किया जा रहा है, मेरे संस्था का उद्देश्य है सेवा करना,रेनबो कान्वेंट स्कूल के प्राचार्य संतोष कुमार ने बताया कि भविष्य में सभी तरह का तकनीकी प्रशिक्षण का व्यवस्था मेरे स्कूल में किया जा रहा है एवं गरीब वर्ग को वर्गों के लिए निशुल्क रहेगा, रूट क्लास के डायरेक्टर इंजीनियर अविनाश कुमार ने बताया कि यह समाज के लिए शिक्षा बहुत ही जरूरी है शिक्षा के बगैर हमारा विकास संभव नहीं है, इस अवसर पर प्रशिक्षक बिरेंद्र प्रसाद चंद्रवंशी मधु कुमारी सत्यार्थ प्रकाश रवि रंजन सर संतोष सर अविनाश सर स्कूल के सभी प्रबंधन समिति सभी स्टाफ गन कर्मचारी का कार्यक्रम में शामिल हुए, हमारी संस्था का उद्देश्य गरीबों मजदूरों शोषित और पीड़ितों को सेवा एवं सहायता प्रदान करना यही मेरा मूल उद्देश्य एवं सिद्धांत है । 





कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!