Breaking News

आम लोगों से साक्षात्कार कार्यक्रम में जिलाधिकारी ने किया जनशिकायतों का निष्पादन




रिपोर्ट प्रभंजन कुमार हाजीपुर // जिलाधिकारी श्रीमती उदिता सिंह के द्वारा अपने कार्यालय कक्ष में वरीय पदाधिकारियों की उपस्थिति में आम लोगों से जन साक्षात्कार कार्यक्रम के तहत जनशिकयतों का निष्पादन किया गया।यह कार्यक्रम जिला जनशिकायत कोषांग के द्वारा आयोजित किया गया था जिसमें कुल 101 आवेदन प्राप्त हुए।38 आवेदनों पर तत्काल कार्रवाई के तहत संबंधित पदाधिकारियों से फोन पर वार्ता कर जिलाधिकारी के द्वारा जरूरी निदेश दिया गया। शेष सभी आवेदन को जिलाधिकारी के द्वारा जरूरी कार्रवाई के लिए संबंधित पदाधिकारी को भेजने का निदेश दिया गया।ऑल इंडिया किसान खेत मजदूर संगठन की जिला सांगठनिक इकाई के द्वारा वैशाली जिले में नीलगाय एवं जंगली सूअर के आतंक से किसानों को मुक्ति दिलाने के लिए जिलाधिकारी से आवेदन पत्र के माध्यम से मांग की गयी।इस संगठन के अध्यक्ष रामपुकार राय के द्वारा बताया गया कि नीलगायों के द्वारा लहलहाते फसल,फल- सब्जी की खेती को बरबाद किया जा रहा है जिसका किसानों पर बड़ा असर दिख रहा है।इसके अतिरिक्त नीलगायों के अचानक सड़क पार करने से सड़क दुर्घटना हो रही है,जिसमें कई लोगों की मृत्यु तक हो गयी है।इसको लेकर नीलगायों के कहर से मुक्ति दिलाने की माँग की गयी।जिलाधिकारी के द्वारा अग्रेतर कार्रवाई के लिए आवेदन पत्र को वन प्रमंडल पदाधिकारी के यहाँ भेजा गया।हाजीपुर प्रखंड के तंगौल के वार्ड न०-8 के मक्खन चौधरी की पत्नी के द्वारा बताया गया कि उनके वार्ड पार्षद के द्वारा द्वेषपूर्ण ढंग से उनका नाम बीपीएल राशन कार्ड सूची से कटवा दिया गया है।उन्होंने बताया कि वे अति गरीब हैं और मजदूरी करती हैं।पहले उन्हें बीपीएल राशन कार्ड अन्तर्गत प्रत्येक माह राशन प्राप्त होती थी।परन्तु कुछ महिनों से नाम कट जाने के कारण अब राशन प्राप्त नहीं होती है।जिससे घर चलाने में समस्या हो रही है।इनके आवेदन को जिलाधिकारी के द्वारा जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी को भेजा गया।राजापाकर प्रखंड के दयालपुर वासी विश्वनाथ राय के द्वारा बताया गया कि उनकी पत्नी की मृत्यु कोविङ काल में कोरोना से हाजीपुर सदर अस्पताल में हो गयी थी परन्तु अभी तक उन्हें मुआवजा नहीं मिला है।उन्होंने बताया कि सभी जरूरी कागजात उनके पास है परन्तु यह पोटल पर नहीं दिख रहा है।इस संबंध में उनके आवेदन को जरूरी कार्रवाई हेतु जिला आपदा प्रबंधन शाखा को भेजा गया। जन्दाहा प्रखंड के रामबहादुर महतो ने बताया कि उनका पुराना खपरोस का मकान ढह गया है और उनका परिवार खूले आकाश में तिरपाल के नीचे रहने को मजबूर है, उनके द्वारा इन्दिरा आवास योजना के तहत एक मकान मांग की गयी। जिलाधिकारी के द्वारा उनके आवेदन को उप विकास आयुक्त को अंग्रेतर कार्रवाई के लिए भेजा गया। हाजीपुर प्रखंड के पहेतियाँ ग्राम के रीता देवी के द्वारा बताया गया कि आवास सहायक के द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना की सूची से उनका नाम हटा दिया गया है। उनके द्वारा आवास सहायक पर आरोप भी लगाया गया। उनके आवेदन को उप विकास आयुक्त को अग्रसारित कर दिया गया।पातेपुर अंचल के रसूलपुर गाँव की रिंकू देवी ने बताया कि उन्हीं के गाँव के एक परिवार के द्वारा मारपीट की जाती है तथा उनका रास्ता भी बंद कर दिया गया है । उनके द्वारा बराबर धमकी भी दिया जाता है । उनके आवेदन को पातेपुर अंचलाधिकारी एवं थाना प्रभारी को भेजा गया । जितेन्द्र प्रसाद साह एवं अन्य पदाधिकारी जन सक्षात्कार के समय जिलाधिकारी के साथ अपर समाहर्ता उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!