Breaking News

महिलाओ का हो अधिकार की बात: नीतू


नौगढ़ चंदौली संवाददाता लक्ष्मीकांत विश्वकर्मा की रिपोर्ट

जनपद चन्दौली नौगढ ब्लॉक अंतर्गत ग्राम्या संस्थान महिला स्वास्थ्य अधिकार मंच एवं मजदूर किसान मोर्चा के संयुक्त तत्वाधान में आज रविवार को मजदूर दिवस के अवसर पर लालतापुर में बैठक आयोजित की गई जिसमें संस्थान की नीतू सिंह ने बताया कि हर साल पूरी दुनिया में 1 मई को मजदूर दिवस मनाया जाता है इसकी शुरुआत 1986 में अमेरिका से हुई थी। लेकिन धीरे-धीरे यह दुनिया के कई देशों में मनाया जाने लगा मजदूर दिवस का महत्व पूरी दुनिया के लिए खास है क्योंकि इस दिन से ही कुछ ऐसे बदलाव हुए हैं जो पूरी दुनिया के नौकरी पेशा लोगों के जीवन को आसान बनाया है पहले मजदूरों से 15- 18 घंटे तक काम लिया जाता था तमाम प्रकार से उनका शोषण होता था। अपने हक के लिए पहली बार अमेरिका में 1986 में मजदूर सड़क पर उतरे आंदोलन किए जिसमें कई मजदूरों की जान भी चली गई थी। कई सालों बाद 1923 से हमारे भारत में भी मजदूर दिवस मनाया जा रहा हैै। जिससे मजदूरों को भी सम्मान व उनका हक मिल सके वर्तमान परिस्थिति में देखा जाए तो आज भी मजदूरों का कई तरह से शोषण किया जा रहा है जैसे काम का अधिकार होने के बाद भी उन्हें काम नहीं मिल रहा है काम मिलने के बाद भी समय से मजदूरी नहीं मिल रही है कई जगह तो मजदूरों से ज्यादा काम भी लिया जा रहा है। क्षेत्र के विभिन्न गांव से आए लोगों ने बताया कि मनरेगा में काम हुआ है लेकिन मजदूरी अभी भी नहीं मिली है बैठक में संगठन के लोगों ने तय किया कि हर गांव में ऐसे लोगों को चिन्हित किया जाएगा जिनकी मजदूरी बाकी है और अपने हक के लिए नौगढ़ ब्लाक का घेराव किया जाएगा बैठक में बसौली, मझगांवा, देवरा, तेंदुआ, मझगाई, डुमरिया, अमदहा आदि गांव से हीरावती, रेखा, संगीता, चंद्रावती, रामचंद्र, बबुन्दर, कमलेश, मोहन, सुरेंद्र, रमेश, रामविलास, त्रिभुवन आदि लोग शामिल रहे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!