Breaking News

झाझा बस स्टैंड के पास खुला स्थाई नीरा बिक्री केंद्र, अब जमुई के लोग रोजाना चखेंगे नीरा का स्वाद,

 


जमूई से सुशील कुमार की रिपोर्ट 

  • जिलाधिकारी जमुई अवनीश कुमार सिंह भा०प्र०से० के द्वारा स्थाई बिक्री केंद्र का उद्घाटन किया गया।

10 रूपये में पीये एक ग्लास नीरा, शराबबंदी के बाद से राज्य भर में नीरा को बढ़ावा को देने की कवायद जोर-शोर से हो रही है। इसी कड़ी में जिला पदाधिकारी जमुई अवनीश कुमार सिंह भा०प्र०से० के मार्गदर्शन में शनिवार 30 अप्रैल को जीविका जमुई सौजन्य से झाझा बस स्टैंड के निकट स्थाई नीरा बिक्री केंद्र खोला गया। शीतल जीविका महिला नीरा उत्पादक समूह द्वारा संचालित स्थाई नीरा बिक्री केंद्र का उद्घाटन जमुई जिलाधिकारी महोदय के द्वारा फीता काटकर किया गया। मौके पर जीविका के जिला परियोजना प्रबंधक श्री बिक्रांत शंकर सिंह, प्रखंड परियोजना प्रबंधक जमुई सदर स्वीटी कुमारी, प्रबंधक जीविकोपार्जन कौटिल्य कुमार के अलावा जीविका के सभी जिला स्तरीय प्रबंधक व जमुई सदर के प्रखंड कर्मी एवं स्वाभिमान जीविका महिला संकुल संघ की अध्यक्ष्य, सचिव एवं कोषाध्यक्ष के अलावा जीविका दीदी उपस्थित थी। उल्लेखनीय है कि श्री नीतीश कुमार माननीय मुख्यमंत्री बिहार के द्वारा समाज सुधार अभियान में भी नीरा को बढ़ावा देने पर जोर दिया गया था। इसी लक्ष्य की पूर्ति हेतु जिले के सभी दसों प्रखंडों में नीरा बिक्री केंद्र खोला गया है। प्रखंड परियोजना क्रियान्वयन इकाई, जमुई सदर की देखरेख में स्थाई नीरा बिक्री केंद्र का शुभारंभ शुक्रवार को झाझा बस स्टैंड निकट किया गया। नीरा स्टाल का उद्घाटन जमुई जिलाधिकारी श्री अवनीश कुमार सिंह ने किया। इस दौरान श्री सिंह ने नीरा का स्वाद भी चखा। उन्होंने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए नीरा का सेवन करने पर जोर दिया। उन्होंने बताया की नीरा स्वस्थ्य के लिए बहुत की लाभदायक है। इस दौरान उन्होंने जीविका के लिए आवंटित किये जा रहे भवन का भी जायजा लिया। उन्होंने जिले भर में नीरा को बढ़ावा देने के लिए आवश्यक सहयोग देने की भी बात कही। इस दौरान यहाँ उपस्थित लोगों ने स्टाल पर नीरा द्वारा निर्मित पेड़ा और आईसक्रीम का भी जमकर लुत्फ़ उठाया।

जीविका के जिला परियोजना प्रबंधक श्री बिक्रांत शंकर सिंह ने बताया यह एक पौष्टिक तत्वों से परिपूर्ण स्वास्थ्यवर्धक एवं स्वादिष्ट पेय पदार्थ है। नीरा में भरपूर मात्र में पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं, एवं इसमें विटामिन की प्रचुर मात्रा होती है। उन्होंने बताया की नीरा उत्पादन में ऐसे परिवारों को जोड़ा जा रहा रहा जो पहले से ताड़ी के करोबार से जुड़े हुए थे। इनके लिए एक तरह से रोजगार का अवसर उपलब्ध की कोशिश जीविका की ओर से की जा रही है। वहीँ प्रबंधक जीविकोपार्जन कौटिल्य कुमार ने बताया की नीरा में 84.72 फीसदी जल, कार्बोहाइड्रेट 14.35 फीसदी पाया जाता है| उन्होंने बताया की सौ मिली नीरा के सेवन से से 110 कैलोरी एनर्जी मिलती है। मौके पर जीविका के प्रबंधक सामुदायिक वित्त राजीव कुमार वर्मा, प्रबंधक सूक्षम वित्त रौशन कुमार गुप्ता, प्रबंधक रोजगार अमित कुमार, प्रबंधक आईबीसीबी नवीन कुमार, प्रबंधक मुल्यांकन एवं अनुश्रवण अनूप कुमार, प्रबंधक अधिप्राप्ति गौतम कुमार, प्रबंधक मानव संसाधन अंजलि कुमारी, प्रशिक्षण अधिकारी राजेश लाल व किरण कुमारी, एसजेवाई नोडल हरिकांत कुमार, क्षेत्रीय समन्वयक पप्पू रजक, सामुदायिक समन्वयक रामप्रवेश, राहुल, ऋतू, रूबी, रविशंकर, अजय के अलावा स्वाभिमान जीविका संकुल संघ के दर्जनों सदस्य एवं ग्राम संसाधन सेवी भी उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!