Breaking News

मनरेगा मे हो रहे भ्रष्टाचार, लिखीत आवेदन देकर कि वैशाली जिला पदाधिकारी से जांच की मांग


वैशाली:
महुआ प्रखण्ड अन्तर्गत विसनपुर हरिराम उर्फ पहारपुर के मुखिया सह वैशाली जिला सचीव मुखिया संघ संजीत कुमार ने मनरेगा पी० टी० ए० सतीष प्रसाद द्वारा रिश्वत नहीं देने पर प्राकलन एवं M.B. नहीं देने के सम्बन्ध में वैशाली जिलाधिकारी को लिखीत आवेदन देकर जांच कि मांग कि है।मिली जानकारी के अनुसार महुआ प्रखण्ड के मनरेगा कार्यालय में पदस्थापित P.T.A सतीष प्रसाद द्वारा रिश्वत नहीं देने पर M.B. एवं प्राकलन तैयार नहीं किया जाता है। बताया जाता है कि सतीश प्रसाद से रिश्वत की राशि एक चहेते भेंडर पर भेजवाते हैं जो जांच के क्रम में पता चलेगा। पिछले दो वर्षों से पूर्ण योजना आंगनवाड़ी भवन सभी पंचायतों जांच के क्रम सड़क निर्माण , पशुशेड एवं राशि का भुगतान नहीं हो रहा है।जिसकी जिसकी लिखीत शिकायत कई बार प्रोग्राम पदाधिकारी महुआ से किया जा चुका है। विदित हो कि विशनपुर हीरा राम उर्फ पहाड़ पुर पंचायत बाँया नदी के किनारे अवस्थित है। पिछले वर्ष नदी का एवं नहर का बांध जलमग्न हो गया था जिसका निरिक्छन अनुमंडल पदाधिकारी महुआ , अंचलाधिकारी महुआ , अंचलाधिकारी महुआ , तथा प्रोग्राम पदाधिकारी महुआ द्वारा किया गया था तथा बाँध एवं नहर मरम्मती के निर्माण का आदेश दिया गया था।इसके बावजूद P.T.A सतीश प्रसाद अभी तक प्राकलन नहीं तैयार किये हैं जिस कारण लगभग 2500 मजदूर कार्य से बाधित है।जिसको लेकर वैशाली जिला मुखिया सचिव ने जिलाधिकारी को आवेदन देकर, जांच कराकर आवश्यक कार्रवाई करने कि मांग की है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!