Breaking News

श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी ने विधवा महिला से मांगा रिश्वत


सोनो‌ जमुई संवाददाता चंद्रदेव बरनवाल की रिपोर्ट

मृत्यु लाभ देने के एवज मे श्रम विभाग के श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी कुमारी शैलजा झाझा के द्वारा मोटी रकम मांगे जाने का एक मामला थाना पहुँचा । मामले मे बाराजोर की रहने वाली महिला वंदना देवी ने बताई कि मेरे पति दिनेश पंडित श्रम संसाधन विभाग के बीओसीडब्लू के अंतगर्त निबंधित श्रमिक थे , जिनकी मृत्यु हो जाने के बाद मुझे दो लाख रूपये का अनुदान राशि मिलना था । जिसके लिये अनुदान राशि प्राप्त करने के लिये श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी झाझा द्वारा आवेदन भराया गया । जिसमे उन्होने एक लाख रूपया इस कार्य के लिये मांगा‌ । वहीं जब इसका विरोध किया तो उन्होने कहा कि उपर भी पैसा देना होता है । श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी अग्रिम के रूप मे पचास हजार रूपए की मांग की । उसके बाद अनुदान की राशि खाता मे आने पर बाकी पचास हजार रूपये देने की बात कही गई । आगे लिखा गया है कि मे किसी तरह रुपए की व्यवस्था कर श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी को चालीस हजार रूपये दिया ।दिनांक 14 मई को जब मेरे खाते मे अनुदान की राशि आई तो श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी ने एक व्यक्ति को हमारे घर पर भेजकर मुझे बुलवाया गया जिसके बाद बांकि बचे राशि मांगने लगे , जिसका ऑडियो क्लिक भी बना लिया गया । वहीं पीड़ित महिला ने आवेदन के साथ ऑडियो चीप भी शामिल किया है । इधर श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी पर पुलिस मामला दर्ज करते हुये आगे की कारवाई मे जुट चुकी है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!