Breaking News

बुद्ध के सिद्धांत मानवता एवं सामाजिक समरसता के लिए मील का पत्थर : कुशवाहा




          कुशवाहा संघ के द्वारा बुद्ध की मूर्ति पर किया गया माल्यार्पण 

वैशाली जिला ब्यूरो प्रभंजन कुमार मिश्रा कि रिपोर्ट // हाजीपुर (वैशाली) बुद्ध पूर्णिमा के पावन अवसर पर वैशाली जिला कुशवाहा संघ के तत्वाधान में बुद्ध मूर्ति चौक हाजीपुर स्थित भगवान बुद्ध की मूर्ति पर संघ के सदस्यगण, जनप्रतिनिधि,शिक्षाविद एवं बुद्धिजीवियों ने पुष्प अर्पित किया। इस अवसर पर कार्यक्रम में संघ के वरीय उपाध्यक्ष सह जदयू नेता कमल प्रसाद सिंह ने कहा कि भगवान बुद्ध का जीवन हर किसी के लिए प्रेरणादाई है।इनके जीवन दर्शन से हम लोगों को प्रेम,शांति,सदभाव, त्याग अहिंसा एवं संयम जैसे गुणों को अपनाना चाहिए।उन्होंने भगवान बुद्ध के बताए हुए अष्टांगिक मार्ग पर चल कर सम्यक एवं संतुलित जीवन यापन करने का आह्वान किया।संघ के महासचिव सह राजद नेता अनिल चंद कुशवाहा ने बुद्ध के विचारों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि भगवान बुद्ध के विचारों ने समाज में फैले पाखंड एवं छुआछूत को दूर करने का प्रयास किया।वहीं कई वर्गों में विभाजित समाज को एक कर मानवता का संदेश दिया था।जिन-जिन देशों ने भगवान बुद्ध के विचारों को अपनाया आज वह देश प्रगति के पथ पर अगली पंक्ति में खड़ा है।नगर परिषद के उपसभापति निकेत कुमार डब्लू ने अपने स्तर से पूरी व्यवस्था के साथ आगामी वर्षो से बुद्ध जयंती मनाने की बात कहा।शिक्षक नेता सह संघ के जिला सचिव पंकज कुशवाहा ने कहा कि भगवान बुद्ध के सिद्धांत मानवता एवं सामाजिक समरसता के मील का पत्थर है।भारत के सभी लोग अगर भगवान बुद्ध के विचारों को आत्मसात कर जातिगत बंधनों से मुक्त हो गए होते तो निश्चित रूप से भारत स्वत: विश्व गुरु कहलाता।कार्यक्रम में हरि शंकर मेहता ने बुद्ध के विचार,उनके बनाए नियम एवं उनके ज्ञान व दर्शन को विस्तार से बताया।कार्यक्रम की अध्यक्षता वरीय उपाध्यक्ष कमल प्रसाद सिंह एवं संचालन शिक्षक नेता पंकज कुशवाहा ने किया।इस कार्यक्रम में संघ के उपाध्यक्ष रामेश्वर प्रसाद सिंह,कोषाध्यक्ष राजेंद्र कुमार बनफूल,अशोक कुमार सिंह,संजय दादा, युवा समाजसेवी सोनू कुमार, प्रवीण कुमार,इंजीनियर जवाहरलाल सिंह,अंबेडकर विकास मंच के कामेश्वर कुमुद,रमेश रजक,रत्नेश कुमार के अलावा दर्जनों लोग कार्यक्रम में उपस्थित हुए।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!