Breaking News

जिलाधिकारी यशपाल मीणा ने आम लोगों से साक्षात्कार कार्यक्रम में किया जनशिकायतों का निष्पादन




रिपोर्ट प्रभंजन कुमार , हाजीपुर // आम लोगों से साक्षात्कार कार्यक्रम में जिलाधिकारी श्री यशपाल मीणा ने समाहरणालय सभागार, वैशाली जिला के विभिन्न अंचलों से आये लोगों से बारी-बारी से उनके पास जाकर मिले, उनकी समस्याओं को पूरी गंभीरता से सूनी और उन्हें आश्वस्त किया कि उनकी परेशानियों को दूर कराया जाएगा। समाहरणालय सभागार में उपस्थित सभी 56 लोगों से जिलाधिकारी मिले, उनसे आवेदन प्राप्त किये एवं जरूरी निर्देश के साथ जिला जन शिकायत कोषांग के माध्यम से संबंधित पदाधिकारियों को भेज देने का निदेश दिया गया। जन शिकायत के अधिकांश मामले भूमि विवाद से संबंधित थे।

महुआ थाना स्थित मिर्जानगर के श्री कृष्णा जयसवाल ने बताया कि उनकी माता जी की मृत्यु कोविड-19 से 26 अप्रैल 2021 को अनुमंडल अस्पताल महुआ में हो गयी थी। परन्तु अभी तक अनुदान की राशि नहीं मिली है। इस पर जिलाधिकारी के द्वारा उनके आवेदन को सिविल सर्जन को भेजते हुए निर्देश दिया गया कि एक त्रिस्तरीय समिति का गठन कर इसकी जाँच करा लें एवं जरूरी कार्रवाई करें।

कचहरी रोड हाजीपुर की रूचिका कुमारी ने बीपीएल अर्न्तगत ईलाज के लिए अनुदान के संबंध में आवेदन दिया जिस पर जिलाधिकारी ने डीपीएम स्वास्थ्य से मोबाईल पर बात कर आवेदिका का आयुष्मान गोल्ड कार्ड बनवा देने का निदेश दिया।

बिदुपुर प्रखंड के खजवत्ता निवासी राधिका देवी ने प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाने की माँग की और उन्होंने अपनी स्थिति का जिक्र किया जिस पर जिलाधिकारी के द्वारा प्रखंड विकास पदाधिकारी बिदुपुर को शीघ्र कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया। प्रखंड राजापाकर के ग्राम जहीगरा निवासी मन्नु कुमार ने बताया कि मेरे केवालेदार के द्वारा केवाला से अधिक जमीन कब्जा कर लिया गया है जिसे मुक्त कराने की गुहार लगायी गयी। उनके आवेदन को डीसीएलआर महुआ को अग्रेतर कार्रवाई के लिए भेजने का निदेश दिया गया। मालादेवी, फुलमतिया देवी, प्रभुसिंह एवं मिथिलेश प्रसाद सिंह जो महुआ प्रखंड के शेरपुर मानिकपुर के निवासी हैं ने वहाँ के डीलर पर मनमानी करने एवं कम अनाज दिये जाने की शिकायत की। उनके आवेदन पर एसडीओ महुआ को जाँच कर कर्रवाई करने का निवेश दिया गया।

राजापाकर की खुशबू सिंह ने कहा कि वर पक्ष द्वारा शादी से इनकार किया जा रहा है और पैसा भी नहीं लौटाया जा रहा है। उनके इस आवेदन को जिलाधिकारी ने महिला थाना को भेजन एवं इसकी एक प्रति पुलिस अधीक्षक को भी देने का निर्देश दिया। भूमि विवाद से संबंधित सभी आवेदन को संबंधित अंचलाधिकारी एवं थाना प्रभारी को जरूरी निदेश के साथ भेजा गया एवं उस पर कृत कार्रवाई संबंधी प्रतिवेदन की माँग की गया।ने किया जनशिकायतों का निष्पादन


हाजीपुर (आससे)   । आम लोगों से साक्षात्कार कार्यक्रम में जिलाधिकारी श्री यशपाल मीणा ने समाहरणालय सभागार, वैशाली जिला के विभिन्न अंचलों से आये लोगों से बारी-बारी से उनके पास जाकर मिले, उनकी समस्याओं को पूरी गंभीरता से सूनी और उन्हें आश्वस्त किया कि उनकी परेशानियों को दूर कराया जाएगा। समाहरणालय सभागार में उपस्थित सभी 56 लोगों से जिलाधिकारी मिले, उनसे आवेदन प्राप्त किये एवं जरूरी निर्देश के साथ जिला जन शिकायत कोषांग के माध्यम से संबंधित पदाधिकारियों को भेज देने का निदेश दिया गया। जन शिकायत के अधिकांश मामले भूमि विवाद से संबंधित थे।

महुआ थाना स्थित मिर्जानगर के श्री कृष्णा जयसवाल ने बताया कि उनकी माता जी की मृत्यु कोविड-19 से 26 अप्रैल 2021 को अनुमंडल अस्पताल महुआ में हो गयी थी। परन्तु अभी तक अनुदान की राशि नहीं मिली है। इस पर जिलाधिकारी के द्वारा उनके आवेदन को सिविल सर्जन को भेजते हुए निर्देश दिया गया कि एक त्रिस्तरीय समिति का गठन कर इसकी जाँच करा लें एवं जरूरी कार्रवाई करें।

कचहरी रोड हाजीपुर की रूचिका कुमारी ने बीपीएल अर्न्तगत ईलाज के लिए अनुदान के संबंध में आवेदन दिया जिस पर जिलाधिकारी ने डीपीएम स्वास्थ्य से मोबाईल पर बात कर आवेदिका का आयुष्मान गोल्ड कार्ड बनवा देने का निदेश दिया।

बिदुपुर प्रखंड के खजवत्ता निवासी राधिका देवी ने प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ दिलाने की माँग की और उन्होंने अपनी स्थिति का जिक्र किया जिस पर जिलाधिकारी के द्वारा प्रखंड विकास पदाधिकारी बिदुपुर को शीघ्र कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया। प्रखंड राजापाकर के ग्राम जहीगरा निवासी मन्नु कुमार ने बताया कि मेरे केवालेदार के द्वारा केवाला से अधिक जमीन कब्जा कर लिया गया है जिसे मुक्त कराने की गुहार लगायी गयी। उनके आवेदन को डीसीएलआर महुआ को अग्रेतर कार्रवाई के लिए भेजने का निदेश दिया गया। मालादेवी, फुलमतिया देवी, प्रभुसिंह एवं मिथिलेश प्रसाद सिंह जो महुआ प्रखंड के शेरपुर मानिकपुर के निवासी हैं ने वहाँ के डीलर पर मनमानी करने एवं कम अनाज दिये जाने की शिकायत की। उनके आवेदन पर एसडीओ महुआ को जाँच कर कर्रवाई करने का निवेश दिया गया।

राजापाकर की खुशबू सिंह ने कहा कि वर पक्ष द्वारा शादी से इनकार किया जा रहा है और पैसा भी नहीं लौटाया जा रहा है। उनके इस आवेदन को जिलाधिकारी ने महिला थाना को भेजन एवं इसकी एक प्रति पुलिस अधीक्षक को भी देने का निर्देश दिया। भूमि विवाद से संबंधित सभी आवेदन को संबंधित अंचलाधिकारी एवं थाना प्रभारी को जरूरी निदेश के साथ भेजा गया एवं उस पर कृत कार्रवाई संबंधी प्रतिवेदन की माँग की गया।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!