Breaking News

भरे गड्ढे में एक महिला का हत्या कर फेंके गए शव मिलने के बाद पूरे क्षेत्र में फैला सनसनी


वैशाली पातेपुर से मोहम्मद एहतेशाम पप्पु एवं बब्लू मिश्रा की रिपोर्ट।

पातेपुर थाना क्षेत्र के बरडीहा तुर्की गांव स्थित मुसहरी टोला के पास पानी भरे गड्ढे में एक महिला का हत्या कर फेंके गए शव मिलने के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। मौके पर जुटे लोगो ने घटना की सूचना पातेपुर थाने की पुलिस को दी। सुचना मिलते ही मौके पर पातेपुर थानाध्यक्ष सह प्रशिक्षु ए एस पी शुभांक मिश्रा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच कर शव की शिनाख्त कर अपने कब्जे में लेते हुए आवश्यक कार्रवाई के बाद पोस्मार्टम के लिए सदर अस्पताल हाजीपुर भेज दिया है। मृतक महिला की पहचान बरडीहा तुर्की गांव के मुसहरी टोला निवासी राजेन्द्र मांझी की 40 वर्षीय पुत्री राजो देवी के रूप में हुई है।

मिली जानकारी के अनुसार पातेपुर थाना क्षेत्र के बरडीहा तुर्की गांव के मुसहरी टोला निवासी राजेन्द्र मांझी की पुत्री राजो देवी को उसका पति समस्तीपुर जिले के वारिसनगर थाना अंतर्गत मथुरापुर ओपी क्षेत्र के मुक्तापुर गांव निवासी विशेश्वर सदा बीते 2 मई को बरडीहा तुर्की के मुसहरी टोला स्थित अपने ससुराल आया था जहां देर रात में ही अपनी पत्नी के साथ मारपीट कर उसे साथ लेकर अपने घर चला गया था। रविवार की अहले सुबह शौच के लिए गए मुसहरी टोले के कुछ महिलाओं की नजर पानी मे पड़े एक महिला के शव पर पड़ी। पानी मे महिला का शव होने की जानकारी मिलते ही मौके पर ग्रामीणों की भारी भीड़ जुट गई। लोगो ने घटना की सूचना पातेपुर पुलिस को दिया। सूचना मिलते ही मौके पर थानाध्यक्ष समेत कई पुलिस पदाधिकारी एवं बल के जवान पहुंच गए। लोगो ने पानी से शव को बाहर निकाल कर महिला की पहचान मुसहरी टोला निवासी राजेन्द्र मांझी की 40 वर्षीय पुत्री राजो देवी के रूप में किया। मृतक की पहचान होते ही परिजनों में कोहराम मच गया। मृतक महिला की 15 वर्षीय पुत्री चांदनी कुमारी ने पुलिस को बताया कि उसके पिता विशेश्वर सदा का घर के बगल के पड़ोसी महिला राजकुमारी देवी के साथ काफी समय से अवैध संबंध था। जिसको लेकर वह बार बार अपनी पत्नी राजो देवी को खत्म करने की बात कहता था तथा जान से मारने की धमकी देता था। मृतक महिला के चार बच्चे है। सभी का रो रो कर बुरा हाल बना है। घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय मुखिया रंजना देवी एवं उनके पति शम्भू कुमार राय मौके पर पहुंच कर मृतक के स्वजनों को ढांढस बंधाते हुए कबीर अंत्येष्टि योजना के तहत तीन हजार रुपये एवं अपने निजी मद से सहायता राशि के रूप में दो हजार रुपये दिया। इस संबंध में पातेपुर थानाध्यक्ष सह प्रशिक्षु ए एस पी शुभांक मिश्रा ने बताया कि मृतक के शरीर पर कई जगह गहरे जख्म के निशान पाए गए है। प्रथम दृष्टया महिला का कही अन्यत्र हत्या के बाद शव को ठिकाने लगाने के उद्देश्य से शव यहां फेक दिया गया है। पुलिस गम्भीरता से पुरे मामले की जांच कर रही है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!