Breaking News

झोला छाप चिकित्सक द्वारा गलत इंजेक्शन देने पर छह वर्षीय बच्ची की मौत


सोनो जमुई संवाददाता चंद्रदेव बरनवाल की रिपोर्ट

शुक्रवार को चरका पत्थर थाना क्षेत्र अंतर्गत नैयाडीह पंचायत के बोझायत गांव निवासी कुन्दन ठाकुर का छह वर्षीय पुत्री की मौत ग्रामीण झोला छाप डाक्टर के द्वारा गलत इंजेक्शन देने के कारण हो गई है । मिली जानकारी के अनुसार बोझायत गांव निवासी कुन्दन ठाकुर का छह वर्षीय पुत्री काजल कुमारी को तेज बुखार हो गई थी । जिस पर परिजनों ने ग्रामीण चिकित्सक को बुलवाकर उसका इलाज करवाया । लेकिन चिकित्सक के द्वारा इंजेक्शन देते ही बच्ची का तबियत सुधरने के बजाय ओर बिगड़ गई एवं कुछ ही क्षणों में उसकी मौत हो गई है । छह वर्षीय पुत्री की हुई मौत के बाद परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है । वहीं ग्रामीण चिकित्सक के द्वारा कराये गए इलाज के बाद हुई बच्ची की मौत से ग्रामीणों में आक्रोश की भावना उत्पन्न हो गई है । सुत्रों की मानें तो सोनो प्रखंड छेत्रों में शायद ही ऐसा कोई गांव हो जहां पर एक दो झोला छाप चिकित्सक नहीं मिलता हो , साथ ही सभी चिकित्सक बाइक पर सवार होकर गांव का चक्कर लगाते हुए किसी भी प्रकार की मरीज हो वे उसका इलाज करने से नहीं चुकते , चाहे उसका जान ही क्यों ना चली जाय । ज्ञात हो कि ग्रामीण क्षेत्रों में बिना किसी लाइसेंस के क्लिनिक बनाकर एवं ग्रामीण क्षेत्रों का चक्कर लगा रहे दर्जनों चिकित्सकों की जानकारी स्वास्थ्य विभाग को भी हे , लेकिन वे अपने कान में तेल डालकर सोये हुए हैं । चाहे ग्रामीणों की जान जाये या रहे इन सब से चिकित्सा विभाग को कोई मतलब नहीं ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!