Breaking News

कार्यालयों की कार्य संस्कृति में सुधार लाकर पूरी पारदर्शिता और ईमानदारी से करें कार्य:- जिलाधिकारी


वैशाली: 
हाजीपुर:- जिलाधिकारी श्री यशपाल मीणा के द्वारा वैशाली समाहरणालय सभागार में सभी विभागों के समाहरणालय संवर्ग के प्रधान सहायकों तथा अनुमंडल प्रखंड एवं अंचल कार्यालयों के प्रधान सहायकों के साथ बैठक की गयी और सभी कार्यालयों में संचिकाओं के रख - रखाव सहित पुरानी एवं एक्टिव संचिकाओं के विषय में जानकारी प्राप्त की गयी । इस अवसर पर जिलाधिकारी के द्वारा निदेश दिया गया कि संचिकाओं को सही तरीके से उपस्थापित किया जाय । उपस्थापन के समय टिप्पणी बिल्कुल स्पष्ट रहे इस पर ध्यान दिया जाय । नियामानुसार क्या निर्णय होना है यह भी स्पष्ट अंकित किया जाय । लघु दण्ड और दीर्घ दण्ड में क्या प्रावधान हैं उसे भी विस्तृत रूप से लिखा जाय । जिलाधिकारी ने कहा कि संचिकाओं के उपस्थापन में तीन दिन से अधिक का समय नहीं लिया जाय तथा सभी स्तर पर संचिका में आगम और निर्गम की तिथि अंकित किया जाय । पद सोपान का ख्याल रखा जाय । जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी स्तर पर कार्य शिथिलता को गंभीरता से लिया जाएगा । अगर कोई समस्या है तो वरीय पदाधिकारी से विमर्श किया जाय । जिलाधिकारी ने कहा कि प्रखंड और अंचल कार्यालयों के निरीक्षण के दौरान कई जगह कैशबुक और अन्य संचिकाओं का प्रभार नहीं दने की बात सामने आयी थी जिसे गंभीरता से लिया गया है । कुछ जगह अग्रिम पंजी तैयार नही थी । जिलाधिकारी के द्वारा निदेश दिया गया कि अग्रिम पंजी तैयार कर ली जाय और जिनके यास अग्रिम है उनके विरुद्ध विधिसम्मत कार्रवायी की जाय । जिलाधिकारी ने कहा कि प्रत्येक माह की पाचवी तारीख तक कैशबुक अद्यतन कर लिया जाय । सभी जगह शिकायत पेटिका और सूचना पट्ट लगा हुआ है । महत्वपूर्ण सूचनाओं को जिला के बेवसाईट पर भी डाल दिया जाय । कार्यालयों में अनावश्यक भीड़ नही लगे इसे सुनिश्चित करायी जाय । प्रायः देखा जा रहा है कि अभिलेखागार , सामान्य शाखा रजिस्ट्री कार्यालय , आपूर्ति शाखा एवं अन्य शाखाओं में भीड़ लगी रहती है । इसमें सुधार लाई जाय । जिलाधिकारी के द्वारा सभी प्रधान सहायकों से कार्यशैली में सुधार लाने और पारदर्शिता , ईमानदारी , निष्पादन तथा अनुशासन पर फोकस करने का निदेश दिया गया । किसी भी कार्यालय में ऐसे बैंक आकउन्ट जिनकी आवश्यकता नही है उसे वित्त विभाग के पत्र के आलोक में बंद करा दिया जाय । जिलाधिकारी के द्वारा संचिकाओं एवं पंजियों को अद्यतन रखने सेवान्त लाभ , कोर्ट के मामले मानवाधिकारी एवं सूचना के अधिकार के मामलों का ससमय निष्पादन करने का निर्देश देते हुए कहा गया कि पुराने से पुराने सभी मामलों को पदाधिकारी के संज्ञान में लाई जाय । इस अवसर पर जिलाधिकारी के साथ अपर समाहर्ता श्री जितेन्द्र प्रसाद साह , उप विकास आयुक्त श्री चित्रगुप्त कुमार , स्थापना शाखा के प्रभारी पदाधिकारी और कार्यालय अधीक्षक उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!