Breaking News

सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के द्वारा अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहतक्रेडिट आउटरीच प्रोग्राम का आयोजन


वैशाली: 
बैंक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के द्वारा स्वतंत्रता के 75वें साल के मौके पर आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के तहत वित्त मंत्रालय भारत सरकार के वित्त विभाग के निर्देश पर दिघी पूर्वी स्थित लक्ष्मी विलास पैलेस में क्रेडिट आउटरीच प्रोग्राम का आयोजन किया गया। इस दौरान विभिन्न बैंकों के द्वारा 90 करोड़ रूपए उद्यमियों को ऋण के रूप में वितरित भी किए गए । सबसे अधिक सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया ने 30 करोड़ रूपए उद्यमियों को प्रदान किया । वहीं उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक के द्वारा 13 करोड़ रूपए उद्यमियों को वितरित किए । कार्यक्रम का उद्घाटन माननीय विधायक श्री अवधेश सिंह , हाजीपुर ने किया इस मौके पर उन्होंने कहा कि कहा कि बैंकों का योगदान देश के विकास में अहम है । लोगों को आत्मनिर्भर बनाने में , देश के आर्थिक विकास को गति देने में बैंको की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री जी कि सोच है कि व्यवसाय करने हेतु जरूरतमंद लोगों के ऋण मुहैया कराकर स्वरोजगार सृजन के दिशा में कार्य किया जाय । उन्होंने सभी बैंकों से जरूरतमंद लोगों को ऋण देकर आत्मनिर्भर बनाने में सहयोग करने के लिए कहा । उन्होंने यह भी कहा कि स्वरोजगार कर स्वावलंबी बने। लोन लेते समय किसी दलाल के चक्कर में न पड़े। बैंक से लोन लेकर उसे चुकाने का इरादा भी रखें। बैंको से भी विधायक महोदय ने अपील करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्र के ग्राहकों के लिए बैंक सहयोगात्मक व सकारात्मक सोच रखें। लोन का सही दिशा में इस्तेमाल हो रहा है या नहीं, इसकी भी समय-समय पर निगरानी करें। मौके मौके पर माननीय विधायक महोदय ने कई उद्यमियों को विभिन्न बैंकों द्वारा स्वीकृत ऋण पत्र भी प्रदान किया । उन्होंने सभी उद्यमियों को बेहतर कार्य कर राज्य में विकास की धारा को बढ़ाने के लिए प्रेरित किया । माननीय विधायक महोदय ने रूडसेट संस्थान द्वारा लगाए गए इस स्टाल पर भी विजिट किया और महिला उद्यमियों के आत्मविश्वास को बढ़ाया ।

श्री प्रभात रंजन, क्षेत्रीय प्रबंधक, उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक, ने कहा कि आर बैंकि कि भी को भी अच्छे उद्यमियों की जरुरत है । हम जरूरतमंद लोगों को ऋण देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने में मदद कर रहे है । इस कार्यक्रम का मकसद गरीबी उन्मूलन और रोजगार सृजन की क्षमता को बल देना है ।  

श्री अमित कुमार , मुख्य प्रबंधक सेंट्रल बैंक ऑफ़ इण्डिया ने कहा कि सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया अपने स्थापना काल से ही यह जरूरतमंद लोगों को ऋण देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाने में मदद कर रही है इस जिले में भी इस जिले में भी लीड बैंक की भूमिका को बखूबी निभाते हुए जिले में विकास की हर एक कार्य में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने का हर संभव प्रयास कर रहे हैं ।

श्री वेद रतन मुख्य प्रबंधक केनरा बैंक ने भी सभी उद्यमियों को ऋण स्वीकृत हो जाने के बाद ऋण को समय पर वापसी करने का सलाह दिया । साथ ही उन्होंने उद्यमियों को बैंकिंग कि सही आदत अपनाने व बेहतर वित्तीय प्रबंधन करने की भी सुझाव दिया ।

इस मौके पर एस के श्रीवास्तव, मुख्य प्रबंधक, स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया, श्री वीरेंद्र कुमार, मुख्य प्रबंधक, बैंक ऑफ़ इंडिया, श्री सुनील कुमार, निदेशक, रुडसेट संस्थान, हाजीपुर सहित जिले के विभिन्न बैंकों के पदाधिकारी उपस्थित थे ।

कार्यक्रम के अंत में श्री कुमार समरेन्द्र , अग्रणी बैंक प्रबंधक, वैशाली ने सभी अतिथियों के प्रति धन्यवाद देते हुए कहा कि दरअसल आजादी के अमृत महोत्सव के तहत 6 से 12 जून तक एक हफ्ते का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है । इसी कार्यक्रम के तहत वित्त मंत्रालय के निर्देश पर यह क्रेडिट आउटरीच का आयोजन किया गया है । उन्होंने कहा कि जिले के अग्रणी बैंक होने के नाते इस कार्यक्रम का आयोजन कर जिले में विकास की धारा को बढ़ाने में अपना प्रयास किया है । उम्मीद है कि इस तरह के कार्यक्रम के आयोजन से निश्चित ही वैशाली एक विकसित जिले के रूप में स्थापित होने की कर अग्रसर होगी ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!