Breaking News

गोदाम पर छापेमारी कर तीन हजार बोरा से अधिक खाद्यान्न किया बरामद


वैशाली, सहदेई बुजुर्ग
- महनार के अनुमंडल पदाधिकारी के निर्देश पर कार्रवाई करते हुए सहदेई बुजुर्ग प्रखंड के पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों ने सहदेई बुजुर्ग ओपी के सरायधनेश गांव स्थित एक गोदाम पर छापेमारी कर तीन हजार बोरा से अधिक खाद्यान्न बरामद किया।

इस संबंध में बताया गया कि सहदेई बुजुर्ग प्रखंड के सरायधनेश गांव में हरिदर्शन पिता स्वर्गीय नगीना प्रसाद साह के गोदाम अनीशा ट्रेडर्स पर सोमवार की सुबह छापेमारी की गई।महनार अनुमंडल पदाधिकारी से प्राप्त निर्देश के आलोक में सहदेई बुजुर्ग प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी डॉक्टर मोहम्मद इस्माइल अंसारी,अंचलाधिकारी रमेश कुमार,सहदेई बुजुर्ग ओपी अध्यक्ष सुनीता कुमारी,एमओ पुष्पक कुमार एवं महनार,देसरी थाना और सहदेई बुजुर्ग और चांदपुरा ओपी की पुलिस अनीशा ट्रेडर्स गोदाम पर पहुंचे।जिसके बाद गोदाम का ताला तोड़कर गोदाम की जांच की गई।गोदाम और घर के अंदर से तीन हजार बोरा से अधिक गेहूं और चावल बरामद किया गया।बताया गया कि अधिकारियों के दल ने गोदाम के बाद जब घर की तलाशी लिया तो वहां भी सैकड़ों बोरा गेंहू,चावल बरामद किया गया।वहीं दूसरी ओर तोई गांव से एक ट्रक के गेहूं भी बरामद किया गया।इस संबंध में सहदेई बुजुर्ग प्रखंड के एमओ पुष्पक कुमार ने बताया कि अनुमंडल पदाधिकारी को गुप्त सूचना मिली थी।जिसके बाद एसडीओ के निर्देश पर छापेमारी की कार्रवाई की गई।उन्होंने बताया कि जनवितरण के अनाज का बोरा बदल-बदल कर कालाबाजारी किया जा रहा था।कई बोरा के ऊपर एसएफसी का मार्क लगा है।उन्होंने बताया कि इसके अलावा एक ट्रक खाद्यान और भी पकड़ा गया है।वहीं दूसरी ओर मौके पर महनार के अनुमंडल पदाधिकारी सुमित कुमार भी पहुंचे।एसडीओ ने मौके पर अधिकारियों को निर्देश दिया कि आईपीसी की विभिन्न धाराओं सहित आवश्यक वस्तु अधिनियम की सुसंगत धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज करने की कार्रवाई की जाए।बताया गया कि बोरो की संख्या इतनी अधिक है कि उसे गिनने और उसे वहां से उठाकर गोदाम ले जाने में घंटों का समय लगेगा।शाम तक स्थल से बोरों की गिनती और उठाव का कार्य चल रहा था।बताया गया कि जब तक सभी बोरों का उठाव कर गिनती और वजन नही कर लिया जाता तबतक जब्त खाद्यान की पृरी मात्रा का पता नही चल सकेगा।पूरी कार्रवाई के दौरान गोदाम के मालिक मौके से फरार हो गया।पुलिस ने उसके घर की तलाशी लेकर उनकी खोजबीन की लेकिन वह घर में नहीं मिले।मौके से मिली जानकारी के अनुसार पूर्व में भी इन लोगों पर खाद्यान्न की कालाबाजारी का आरोप लग चुका है और इस संबंध में कानूनी कार्रवाई भी चल रही है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!