Breaking News

अनुमंडल कृषि पदाधिकारी ने मांगा सहदेई बुजुर्ग प्रखंड कृषि अधिकारी से स्पष्टीकरण


रिपोर्ट नवीन कुमार सिंह

वैशाली: सहदेई बुजुर्ग - खरीफ 2022-23 में धान के बीज के कम वितरण को लेकर महनार के अनुमंडल कृषि पदाधिकारी ने सहदेई बुजुर्ग प्रखंड के प्रखंड कृषि पदाधिकारी से स्पष्टीकरण मांगा है।अनुमंडल कृषि पदाधिकारी द्वारा प्रखंड कृषि पदाधिकारी को दिए गए पत्र में कहा है कि प्रखंड में बीज वितरण की प्रगति धीमी है।जो खेद का विषय है।कहा है कि प्रखण्ड के कम बीज वितरण वाले पंचायतों को चिन्हित कर संबंधित कृषि समन्वयक एवं किसान सलाहकार से स्पष्टीकरण एवं उचित कार्रवाई करें।साथ ही पत्र में प्रखण्ड कृषि पदाधिकारी से दो दिनों के अंदर इसको लेकर स्पष्टीकरण मांगा गया है।अनुमंडल कृषि पदाधिकारी ने कहा है कि विभाग द्वारा तय समय सीमा में अपने प्रखंड में शत-प्रतिशत बीज वितरण करना सुनिश्चित करेंगे।अगर ऐसा नहीं होता है तो आप के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई हेतु आगे पत्र लिखा जाएगा।

उल्लेखनीय है कि प्रखण्ड में कृषि विभाग की पूरी कार्यप्रणाली पर लोग पहले से ही सवाल उठा रहें हैं।पिछले दिनों संपन्न हुए खरीफ महाअभियान 2022 में भी किसानों और उपस्थित जनप्रतिनिधियों ने कृषि विभाग की कार्यप्रणाली पर कई गंभीर सवाल खड़े किए थे।वही बीज वितरण पर भी लोगों ने कई प्रकार के सवाल उठाए थे। बताया गया था कि कुछ ऐसे लोगों को ही बीज दिया गया है जिनके पास भूमि उपलब्ध नहीं है।लोगों के अनुसार चिन्हित कुछ ऐसे किसान है जिनके पास काफी कम भूमि भी है और उन्हीं को बार-बार योजनाओं का लाभ दिया जाता है।अन्य किसानों को भनक तक नहीं लगती है।इसके पूर्व खाद की कालाबाजारी को लेकर भी सवाल उठ चुका है।

 लोजपा जिला सचिव चंदन कुमार यादव ने किसान सलाहकार से लेकर प्रखंड कृषि पदाधिकारी तक बीज बितरण में हो रही धांधली का आरोप लगाते हुए जिला कृषि पदाधिकारी से उच्च स्तरीय जांच की मांग की है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!