Breaking News

वर्ग विशेष को अपमानित करने को लेकर हाजीपुर कोर्ट में मामला दर्ज


हाजीपुर(वैशाली)
बिहार के मुख्य सचिव आमीर सुबहानी, बिहार लोक सेवा आयोग के चेयरमैन आर के महाजन पर समाजिक सौहार्द बिगाड़ने एवं वर्ग विशेष को जानबूझकर अपमानित करने के कारण उनके ऊपर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी हाजीपुर वैशाली के कोर्ट में परिवाद पत्र संख्या 1793/2022 के तहत डॉक्टर अजीत कुमार ने एक मामला दाखिल किया है।इस सबंध में डॉक्टर अजित कुमार ने बताया कि बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा प्रधानाध्यापक नियुक्ति परीक्षा में समुदाय विशेष एवं प्रथम स्वतंत्रता आंदोलन के स्वतंत्रता सेनानियों पर आपत्तिजनक प्रश्न,जाति विशेष को जानबूझकर सुनियोजित तरीके से अपमानित कर सामाजिक सौहार्द बिगाड़ने के विरोध में बिहार के मुख्य सचिव आमिर सुबहानी,बिहार लोक सेवा आयोग के चेयरमैन आर के महाजन एवं प्रश्न चयन समिति के सदस्यों के विरोध में हाजीपुर न्यायिक दंडाधिकारी के कोर्ट में एक परिवाद पत्र दायर किया गया हैं।जिसकी सुनवाई 6 जून 2022 को हुई।

मालूम हो कि बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा माध्यमिक स्कूलों में प्रधानाध्यापक भर्ती परीक्षा में महान मुगल सम्राटों के पैदाइश राजपूत राजकुमारियों से पैदा होने एवं ब्राह्मण विधवा महिला से शादी के प्रश्नों के अलावा भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के सेनानियों कोअतिवाद और उग्रवाद जैसे प्रश्न जानबूझकर अपमानित करने की नियत को साजिश करार दिया है।डॉक्टर अजीत कुमार के अधिवक्ता रविशंकर सिंह ने न्यायालय को बताया कि ऐसे प्रश्न का कोई औचित्य नहीं है।यह केवल और केवल अभियुक्त द्वारा जानबूझकर एक सोची समझी साजिश के तहत राजपूत, ब्राह्मण और करोड़ों देशभक्तों को अपमानित करने के लिए ऐसे प्रश्न पूछे गए हैं।ऐसे बेतुकी प्रश्नन समाज में विद्वेष फैलाने,जाति विशेष को अपमानित करने के अलावे देश भक्तों को ठेस पहुंचाने और अपमानित करने के उद्देश्य ऐसे प्रश्न पूछे गए हैं।दायर परिवाद पत्र मे गवाहन के तौर पर विवेक रंजन,संतोष प्रताप सिंह,रंजीत पांडे,अभिषेक कुमार सिंह,राज नारायण सिंह,शिवनाथ सिंह,अवधेश कुमार सिंह,विपिन कुमार सिंह अधिवक्ता,गुंजन कुमार सिंह, अधिवक्ता अभिषेक कुमार सिंह,संजय पांडे,संतोष झा,शैलेंद्र कुमार सिंह एवम परमहंस नारायण सिंह उपस्थित हुए।जिन की गवाही बतौर साक्ष्य के रूप में अगले तिथि को होगी।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!