Breaking News

सभी संवेदनशील जगहों पर नियमित रूप से रेड किया जाय:- जिलाधिकारी


वैशाली हाजीपुर:-
बालश्रम उन्मूलन तथा किशोर श्रमनिषेध एवं विनियमन की जिला टास्क फोर्स की बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी के द्वारा निर्देश दिया गया कि जिला में चिन्हित सभी पोटेंशियल पॉकेट्स ( संवेदनशील स्थल ) में पुलिस बल की उपस्थिति में औचक रेड किया जाय । रेलवे स्टेशन के आस - पास की चाय दूकानों , होटल , लाइन होटल , ढाबा एवं ईट - भट्ठे के आस - पास गहन रूप से धावादल का परिचालन सुनिश्चित करायी जाय । जिलाधिकारी के पूछने पर श्रम अधीक्षक ने बताया कि अभी सप्ताह में दो दिन बुधवार एवं शुक्रवार को धावादल के द्वारा रेड किया जाता है और रेड में पाये गये बच्चों को बाल कल्याण समिति , वैशाली को विधिवत सुपूर्द किया जाता है । इन बच्चों को मुख्यमंत्री सहायता कोष की 25 हजार रूपये की राशि भी दी जाती है । बाल कल्याण समिति द्वारा इन बच्चो को पुर्नवास केन्द्र में भेजा जाता है । इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि निर्धारित तिथि बुधवार और शुक्रवार के ही रेड करने का कोई लाभ नहीं मिलेगा क्योंकि जहाँ बाल श्रम किया जा रहा है वहीं लोगों को इसके बारे में पता रहता होगा । जिला पदाधिकारी के द्वारा निदेश दिया गया कि सप्ताह में कम से कम तीन दिन रेड करायी जाय और इसके लिए तिथि निर्धारित नहीं की जाय । यह बिल्कुल औचक होनी चाहिए । रेड रात्रि पहर में भी किया जाय । रेड करते समय पर्याप्त पुलिस बल रहे यह भी सुनिश्चित होना चाहिए । जिलाधिकारी ने कहा कि एक दिन में दो प्रखण्ड में एक साथ रेड किया जाय । उन्होंने कहा कि जो बच्चे पकड़ में आते हैं उनकी अच्छे से काउन्सलिंग की जाय । उनकी मानसिक जाँच की जाय और उन्हें प्रोत्साहित किया जाय । विमुक्त किये गये बाल श्रमिकों के अभिभवको का राशन कार्ड एवं आयुष्मान कार्ड बनवाया दिया जाय । जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि विमुक्त बच्चों का सरकारी विद्यालयों में नामांकन कराकर उन्हें अन्य योजनाओं से अच्छादित कराया जाय । गैर सरकारी संगठनों को भी बाल श्रमिकों की विमुक्ति से संबंधित निष्पक्ष रूप से कार्य करने का निदेश दिया गया । इस बैठक में जिलाधिकारी के साथ पुलिस अधीक्षक श्री मनीष सिविल सर्जन , जिला शिक्षा पदाधिकारी , सहायक निदेशक , जिला बाल संरक्षण इकाई वैशाली श्रम अधीक्षक , नोडल , चाईल्डलाइन , वैशाली , श्री सुधीर कुमार शुक्ला , जिला विधिक सेवा प्राधिकार , वैशाली के प्रतिनिधि एवं श्रम प्रवर्तन , पदाधिकारी उपस्थित थे । बैठक के उपरांत जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक के द्वारा संयुक्त रूप से बाल श्रम से विमुक्ति हेतु जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया । यह जागरूकता रथ वैशाली जिला के प्रमुख स्थानों पर भ्रमण करेगी तथा ऑडियो क्लीप एवं बैनर , पोस्टर आदि के माध्यम से नियोजकों एवं आमलोगों को बाल श्रम निषेध हेतु जागरूक किया जायेगा ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!