Breaking News

सेविका दिव्यांग रुकसाना खातून के चयन के बाद हंगामे की भेंट चढ़ी वार्ड सभा


महुआ
(वैशाली) प्रखंड क्षेत्र के मिर्जानगर पंचायत के वार्ड संख्या 9 में केंद्र संख्या 322 पर सेविका और सहायिका की बहाली के लिए वार्ड सभा का आयोजन किया गया था। मौके पर वार्ड सदस्या सह अध्यक्ष कमर सुल्ताना की अध्यक्षता एवं पंच की उपस्थिति में वार्ड सभा कार्रवाई शुरू हुई ।महिला पर्यवेक्षिका की नियत संदेश पूर्ण था ।आते हैं वह वार्ड सभा को भंग कर आगे की ओर तिथि निर्धारित करना चाह रही थी ।जिसे स्थानीय लोगों ने नकार दिया ।लोगों का कहना था कि जो आंगनबाड़ी बहाली की रोस्टर है उसके अनुसार बहाली की प्रक्रिया पूर्ण की जाय लेकिन बार-बार प्रवेक्षीका सभा को स्थगित करना चाह रही थी ,लेकिन स्थानीय लोगों ने जब कहा कि जब सभी लोगों की उपस्थिति है तो फिर क्यों नहीं बहाली की प्रक्रिया पूर्ण होगी ।जिससे महिला पर्यवेक्षिका ने मेघा सूची में एक नंबर पर आने वाली दिव्यांग रुकसाना खातून का चयन पत्र भी दिया ।जिसकी खबर मिलते ही स्थानीय मुखिया पति तथा उनके समर्थक लोग हो हल्ला करते हुए महिला पर्यवेक्षिका को लेकर चलते बने और धमकी देते हुए कहते गए की जबरदस्ती कराया जाता है एफ आई आर कर देंगे। इससे साफ जाहिर होता है कि आंगनवाड़ी सीडीपीओ कार्यालय एवं स्थानीय मुखिया की मिलीभगत से अपने चहेते लोग की चयन करने की मंशा थी, जिसे पूरा होता न देख मुखिया पति द्वारा तथा उनके समर्थकों द्वारा हंगामा किया गया, और इसका दोष स्थानीय लोगों पर लगा दिया ,जो की जांच का विषय बना हुआ है ।अब देखना है चयन के बाद भी रुखसाना को इंसाफ मिल पाता है या फिर आंगनवाड़ी एवं स्थानीय मुखिया पति के मिलीभगत से मेघा सूची की गला घोट दी जाती है ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!