Breaking News

पांच सदस्यीय शिष्टमंडल ने अपर समाहर्ता विनय कुमार राय से मिलकर मुख्यमंत्री के नाम का स्मार – पत्र सौंपा

राम कुमार ब्यूरो प्रमुख समस्तीपुर



समस्तीपुर // शहर के भगत सिंह स्मारक पार्क में सर्वदलीय धरना देकर बागमती नदी के अधिशेष पानी को बूढ़ी गंडक नदी में डाले जाने की योजना का विरोध किया गया। धरना को सम्बोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि बागमती नदी के अधिशेष पानी को पुरानी बागमती धार वेलवा – मीनापुर लिंक चैनल को पुनर्जिवित कर रेगुलेटर के माध्यम से बूढ़ी गंडक नदी में प्रवाहित करने की बिहार सरकार की योजना बूढ़ी गंडक के तटबंध से सुरक्षित के लिए विनाशकारी होगा क्योकि बूढ़ी गंडक का तटबंध अतिरिक्त पानी ढ़ोने के लिए पर्याप्त नहीं है। ऐसी परिस्थिति में बागमती नदी का अतिरिक्त पानी बूढ़ी गंडक में डाला जाता है तो बूढ़ी गंडक के तटबंध से सुरक्षित आबादी मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, बेगूसराय तथा खगड़िया जिला के ग्रामीण एवं शहरी आबादी के लिए विनाशकारी होगा। इस मामले की गंभीरता को देखते हुए जल्द ही एक शिष्टमंडल बिहार सरकार के जल संसाधन विभाग के मंत्री, विभागीय सचिव तथा जल संसाधन विभाग मुजफ्फरपुर के मुख्य अभियंता से मिलकर ज्ञापन सौपेगा तथा इस जनविरोधी योजना के खिलाफ सड़क से सदन तक संघर्ष किया जाएगा। धरना के उपरांत 05 सदस्यीय शिष्टमंडल ने अपर समाहर्ता विनय कुमार राय से मिलकर मुख्यमंत्री के नाम का स्मार – पत्र सौंपा। प्रतिनिधिमंडल में भाकपा के वरीय नेता रामचन्द्र महतो, प्रयागचन्द्र मुखिया, जिला राजद प्रवक्ता राकेश कुमार ठाकुर, माकपा जिला मंत्री रामाश्रय महतो तथा राजद नेता रंजीत कुमार रम्भू आदि शामिल थे। धरना में भाकपा जिला मंत्री सुरेन्द्र कुमार सिंह मुन्ना, जिला राजद महासचिव राम विनोद पासवान, समाजसेवी वैद्यनाथ चौधरी, अधिवक्ता मो0 शाहिद हुसैन, भाकपा नेता सुधीर देव, अनिल कुमार, शंकर साह, रामअवतार ठाकुर, देवेन्द्र सिंह, पूर्व प्राचार्य हरि नारायण राय, पूर्व शिक्षक जगदीश यादव, राजद नेता ज्योतिष महतो आदि ने भाग लिया।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!