Breaking News

त्याग बलिदान के पर्व ईद-उल-अजहा हर्षोल्लास के साथ मनाया गया


रोहतास नोखा से मंटू कुमार की रिपोर्ट

नोखा (रोहतास)नोखा में त्याग एव बलिदान का त्योहार ईद-उल-अजहा रविवार को अकीदतमंदों ने हर्षोउल्लास के साथ मनाया । इस मौके पर मस्जिदों में नमाज अदा की गई। शहर व गांव के मस्जिदों पर सुबह से ही नए नए कपड़े पहन कर सर पर इमामा बांधे हुए कपड़ों पर अतर लगाए हुए नमाजियों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था। जामा मस्जिद मौलाना ने कहा कि मुसलमानों की दो ही ईद है- ईद-उल-फित्र और ये ईद-उल-अजहा। ईद त्याग और बलिदान का पैगाम देता है। मस्जिद में मौलाना ने बकरीद की नमाज पढ़ाई। मौलाना ने अपने खुतबे में लोगों को अमन, भाईचारा और साफ-सफाई के साथ बकरीद मनाने पर जोर दिया। वही इस पर्व को लेकर के प्रशासन का भी मुस्तैद दिखाई दिया थानाध्यक्ष राजेश कुमार, वीडियो रामजी पासवान, सीओ सुमन कुमार सहित सभी प्रशासनिक पदाधिकारी मस्जिदों के पास पुलिस बल के साथ उपस्थित रहे। पेट्रोलिंग पुलिस गश्त करते हुए दिखाई दिया। सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए थे। नोखा प्रखंड के नगर परिषद नोखा में जबरा, घोसिया ,मेयारी बाजार श्री खिंडा, कदवा, धर्मपुरा, नोनसारी सहित कई जगह को मनाया गया। मौके पर नगर परिषद के निवर्तमान मुख्य पार्षद विजय सेठ, रमेश चौहान , उमेश कुमार , गुलाम मोहम्मद ,गुलाम गौस हाशमी सहित कई लोगों ने एक दूसरे के गले मिलकर बधाई दी।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!