Breaking News

डीएम वैशाली के आदेश पर एसडीआरएफ टीम बाढ़ की तैयारी, को लेकर रेस्क्यू बोट द्वारा किया प्रशिक्षण शुरू


हाजीपुर/ 
वैशाली  जिला अधिकारी के आदेश पर  गिरीह रक्षा वाहिनी के 5 जवानों को एसडीआरएफ हाजीपुर टीम के कंपनी कमांडर इंस्पेक्टर गणेश जी ओझा के नेतृत्व में रेस्क्यू राहत बचाव कार्य रेस्क्यू बोट द्वारा प्रशिक्षण शुक्रवार से 1 सप्ताह परीक्षण शुरू हो चुका है गंडक नदी के किनारा क्लब घाट एसडीआरएफ कैंपस हाजीपुर में,  प्रशिक्षण 1 सप्ताह तक चलेगा।  बाढ़ 2022 के मध्य नजर को देखते हुए जिला पदाधिकारी ने इंस्पेक्टर गणेश जी ओझा एसडीआरएफ कंपनी कमांडर को बताया है कि गिरीह रक्षा वाहिनी को 10 जवानों को रेस्क्यू बोट का परीक्षण दें, जब बाढ़ आती है तो उस पीरियड में समय में गिरीह रक्षा वाहिनी के जवानों को मदद ली जाएगी प्रशिक्षण लेने वाले जवान सिपाही  राजीव कुमार मिश्रा, सुभाष कुमार, अमन आकाश, दिलीप  कुमार गौरव कुमार इत्यादि।

   इंस्पेक्टर गणेश जी ओझा ने बताया कि भारत के सर्वाधिक बाढ़ ग्रस्त राज्यों में से बिहार एक हैं। राज्य के 28 जिले में बाढ़ अधिक आती है जिसमें वैशाली जिला भी हैं,  राज्य के कुल आबादी लगभग 76% लोग बाढ़ से प्रभावित हर वर्ष हो जाते हैं। बाढ़ के दौरान बच्चों को नदी मैं स्नान करने से रोके खतरनाक घाटों का पहचान करें और  डूबे हुए चंपा कल का पानी ना पिए, बासी भोजन ना खाएं बच्चों को  ओ आर एस  का घोल पिलाएं गर्भवती महिलाएं, दिव्यांग जन बुजुर्ग बच्चों का विशेष बाढ़ के दौरान ख्याल रखें। सहयोगी कर्मिक एसआई धुरेंद्र सिंह, सिपाही राजीव रंजन, राम नरेश पासवान, संजीव कुमार, मनोज कुमार, आशीष कुमार इत्यादि ।।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!