Breaking News

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा जिलास्तरीय पदाधिकारियों एवं कार्यकर्त्ताओ के की गई बैठक आहूत


वैशाली: 
पातेपुर प्रखंड क्षेत्र के गांडा गांव स्थित अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष अमित कुमार सिंह उर्फ मिंटू सिंह के आवास परिसर में महासभा के जिलास्तरीय पदाधिकारियों एवं कार्यकर्त्ताओ की बैठक आहूत की गई। बैठक में मुख्य रूप से संगठन को मजबूत बनाने एवं संगठन के विस्तार को लेकर व्यापक स्तर पर चर्चा की गई। बैठक की अध्यक्षता किशोर सिंह ने की वही बैठक का संचालन अरविंद सिंह ने किया।

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के बैठक में वक्ताओं ने मुख्य रूप से क्षत्रिय समाज के विकाश को लेकर बच्चों में बेहतर शिक्षा, सहयोग की भावना, सामाजिक विसंगतियों से बच्चों को दूर रखने एवं संगठित होकर क्षत्रिय समाज को विकाश के मुख्य धारा में लाने के लिए एक होकर आवाज बुलंद करने पर जोर दिया। बैठक के मुख्य अतिथि महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अधिवक्ता रणवीर सिंह ने बैठक में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज के परिवेश में क्षत्रिय समाज राजनीतिक समेत अन्य क्षेत्रों में भी उपेक्षा का शिकार है।‌जिसका मुख्य कारण आपसी फुट और संगठित नही होना है। जिस दिन क्षत्रिय समाज एकजुट होकर संगठित हो जाएगा उस दिन फिर एक बार भारत के इतिहास में क्षत्रियों की गाथा स्वर्ण अक्षरों में लिखी जाएगी। बैठक में डॉ रघुवंश प्रसाद सिंह, जिला संगठन मंत्री, अशोक कुमार सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष अरविंद कुमार सिंह, ललन सिंह, संजय सिंह, राधामोहन सिंह, अनिल कुमार सिंह, विश्वनाथ प्रसाद सिंह, गौड़ी सिंह, ब्रजमोहन सिंह समेत दर्जनों लोगों ने संबोधित किया। 

पातेपुर प्रखंड क्षेत्र के गांडा गांव स्थित अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष अमित कुमार सिंह उर्फ मिंटू सिंह के आवास परिसर में महासभा के जिलास्तरीय पदाधिकारियों एवं कार्यकर्त्ताओ की बैठक आहूत की गई। बैठक में मुख्य रूप से संगठन को मजबूत बनाने एवं संगठन के विस्तार को लेकर व्यापक स्तर पर चर्चा की गई। बैठक की अध्यक्षता किशोर सिंह ने की वही बैठक का संचालन अरविंद सिंह ने किया।

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के बैठक में वक्ताओं ने मुख्य रूप से क्षत्रिय समाज के विकाश को लेकर बच्चों में बेहतर शिक्षा, सहयोग की भावना, सामाजिक विसंगतियों से बच्चों को दूर रखने एवं संगठित होकर क्षत्रिय समाज को विकाश के मुख्य धारा में लाने के लिए एक होकर आवाज बुलंद करने पर जोर दिया। बैठक के मुख्य अतिथि महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अधिवक्ता रणवीर सिंह ने बैठक में उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज के परिवेश में क्षत्रिय समाज राजनीतिक समेत अन्य क्षेत्रों में भी उपेक्षा का शिकार है।‌जिसका मुख्य कारण आपसी फुट और संगठित नही होना है। जिस दिन क्षत्रिय समाज एकजुट होकर संगठित हो जाएगा उस दिन फिर एक बार भारत के इतिहास में क्षत्रियों की गाथा स्वर्ण अक्षरों में लिखी जाएगी। बैठक में डॉ रघुवंश प्रसाद सिंह, जिला संगठन मंत्री, अशोक कुमार सिंह, प्रदेश उपाध्यक्ष अरविंद कुमार सिंह, ललन सिंह, संजय सिंह, राधामोहन सिंह, अनिल कुमार सिंह, विश्वनाथ प्रसाद सिंह, गौड़ी सिंह, ब्रजमोहन सिंह समेत दर्जनों लोगों ने संबोधित किया।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!