Breaking News

भाषा का अधिकाधिक उपयोग उसके विकास के लिए जरूरी: - जिलाधिकारी


वैशाली: हाजीपुर
:- राज्य की द्वितीय राजभाषा उर्दू के विकास और उसके प्रचार - प्रसार के लिए उर्दू निदेशालय , मंत्रीमंडल सचिवालय विभाग , बिहार सरकार एवं जिला उर्दू कोषांग , वैशाली के तत्वाधान में आयोजित उर्दू भाषी विद्यार्थी प्रोत्साहन वाद - विवाद प्रतियोगिता का समाहरणालय सभागार में दीप प्रज्जवलित कर उद्घाटन करते हुए जिलाधिकारी श्री यशपाल मीणा ने कहा कि भाषा का महत्व तभी है जब हम अपनी बातों को उसी भाषा में बोलकर या लिखकर सम्प्रेषित करें । भाषा के विकास में उस भाषा का अधिकाधिक उपयोग किया जाना जरूरी है । जिलाधिकारी ने उपस्थित महानुभाओं , निर्णायक मंडली एवं प्रतिभागी छात्र - छात्राओं का स्वागत किया गया और कहा गया कि जीत - हार की भावना से उपर उठकर बच्चे इस प्रतियोगिता में बेहतर रूप से अपनी बातों को रखेंगे । उन्होंने उपस्थित अभिभावकों से भी आह्वान किया कि बच्चों को अच्छी तालीम दिलवायें । जिलाधिकारी ने कहा कि बच्चों की परवरिस पर विशेष ध्यान दिया जाय । प्रतियोगिता अपनी जगह है परन्तु अच्छी तालीम का कोई तोड़ नहीं है । अच्छी तालीम मिलेगी तो बच्चें जीवन में निरंतर आगे बढ़ेंगे । जिलाधिकारी ने वैशाल की गंगा - यमुना तहजीव का भी उल्लेख किया और कहा कि यह मिशाल बनी रहनी चाहिए । उन्होंने कहा कि प्रशासन और पब्लिक रेल की दो पटरियाँ है । प्रशासन हर समय आपके सहयोग के लिए है और आप भी जहाँ जरूरत है वहाँ सहयोग करें । यह सदभाव बनी रहे परन्तु इस सभी का आधार अच्छा तालीम है । आज मैट्रिक , इंटर और स्नातक समकक्ष उर्दू छात्र - छात्राओं के बीच तीन विषयों- तालीम की अहमियत , उर्दू जबान की अहमियत , उर्दू गजल की लोकप्रियाता पर आधारित वाद - विवाद प्रतियोगिता करायी गयी । इस अवसर पर डॉ ० आदिल रशीद , विभागाध्यक्ष उर्दू आरएन कॉलेज , हाजीपुर , डॉ ० शफीउज्जमाँ , प्रधानाध्यापक , पीआरएस इन्टर स्कूल जहांगीरपुर , राघोपुर , मौलाना शमीम अहमद शमसी , प्रभारी प्राचार्य , मदरसा अहमदिया अबाबकरपुर , चेहराकला , मो ० सदरे आलम नदवी , शिक्षक , जीपीएस , इस्माईलपुर गोरौल , मौलाना नेयाज अहमद कासमी , प्राचार्य , मदरसा इस्लामिया अंजुमन in फलाहुलमुस्लेमीन , हाजीपुर निर्णायकमंडल के सदस्य थे । इस सम्पूर्ण कार्यक्रम की अध्यक्षता मौलाना सैयद मुजाहिर आलम शमसी ने की । मुख्य अतिथि मो 0 अजीमउद्दीन अंसारी तथा विशिष्ट अतिथि प्रो ० हसन रजा थे । इस अवसर पर अपर समाहर्ता श्री जितेन्द्र प्रसाद साह , उप विकास आयुक्त श्री चित्रगुपत कुमार , जिला नजारत उप समाहर्त्ता श्री अरूण कुमार , अनुमंडल पदाधिकारी हाजीपुर श्री अरुण कुमार , डीसीएलआर हाजीपुर श्री स्वप्निल सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे । जिला उर्दू कोषांग के प्रभारी पदाधिकारी सुश्री कहकशों के द्वारा धन्यवाद ज्ञापित किया गया ।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!