Breaking News

दिव्यांगजनों के यूडीआईडी कार्ड बनाने के लिए प्रखंड परिसर में लगेगी प्रतिदिन शिविर


वैशाली: 
हाजीपुर:- जिलाधिकारी श्री यशपाल मीणा के द्वारा सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी को दिनांक 27.07.2022 से दिनांक 03.08.2022 तक प्रखंड कार्यालय परिसर में प्रतिदिन शिविर लगा कर दिव्यांगजनों के लिए यूडीआईडी कार्ड बनाने का निदेश दिया गया है । पूर्व में प्रत्येक गुरुवार को साप्ताहिक शिविर लगाने का निदेश दिया गया था परन्तु साप्ताहिक शिविर के आयोजन के उपरान्त भी अभी तक शत - प्रतिशत ऑफलाईन प्रमाणीकृत दिव्यांगजनों का यूडीआईडी कार्ड बनाने का कार्य पूर्ण नहीं हो पाया है । जिलाधिकारी ने कहा है कि इससे संबंधित लक्ष्य हर हाल में अगस्त 2022 तक प्राप्त कर लिया जाय । बिदुपुर , महनार एवं पातेपुर प्रखंड का दैनिक शिविर वहाँ संचालित बुनियाद केन्द्र पर लगाया जायेगा । प्रखंड कार्यालय परिसर में लगने वाले शिविर में केवल ऑफ लाईन निर्गत दिव्यांगता प्रमाण - पत्रों का सत्यापन किया जाएगा । जिसमें इनके यूडीआईडी कार्ड निर्माण के लिए आवश्यक दस्तावेज जैसे- दिव्यांगता प्रमाण - पत्र , आधार कार्ड , आवासीय प्रमाण - पत्र पहचान पत्र , फोटो एवं उनकी विवरणी दिव्यांगजन से प्राप्त किये जायेंगे आवासीय एवं पहचान से संबंधित भारत सरकार , बिहार सरकार द्वारा निर्गत प्रामाण - पत्र जैसे- मतदाता पहचान पत्र विद्यालय पहचान पत्र , राशन कार्ड , ड्राईविंग लाइसेंस , आधार , पैन कार्ड , पासपोर्ट , बैंक पासबुक , इत्यादि अथवा किसी सक्षम प्राधिकार द्वारा निर्गत प्रमाण - पत्र मान्य होंगे । सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे अपने प्रखंड के बाल विकास परियोजना पदाधिकारी , प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी , मुखिया , वार्ड , कॉउंसिलर , पंचायत सचिव विकास मित्र , जीविका के प्रखंड स्तर के प्रबंधक समुदाय स्तरीय समन्वयक , सेविकाएँ , आशा कार्यकर्ता एवं प्रखंड स्तर के प्रबंधक आदि के साथ बैठक एवं समन्वय स्थापित कर प्रमाणीकृत दिव्यांगजनों का सर्वेक्षण कराते हुए प्रत्येक गुरुवार को उनका मोटिवेशन कराना सुनिचित करेंगे । शिवर में प्रमाणीकृत दिव्यांगजनों के यूडीआईडी कार्ड बनाने के लिए वांछित दस्तावेजों का सत्यापन असैनिक शल्य चिकित्सक - सह - मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी के द्वारा प्रतिनियुक्त चिकित्सकों के द्वारा किया जायेगा । वैसे प्रामणीकृत दिवयांगजन जो शिविर में आने में असमर्थ हैं , उनका आवेदन विकास मित्र द्वारा जिला दिव्यांगजन सशक्तिकरण कोषांग में समर्पित किया जायेगा । पंचायत स्तर पर प्रमाणीकृत दिव्यांगजनों को मोबिलाईज करने के लिए स्थानीय निकाय द्वारा व्यापक प्रचार - प्रसार , आम सूचना एवं अन्य माध्यमों से ओयोजित शिविर के तिथि की सूचना दी जाएगी , जिसकी जिम्मेदारी संयुक्त रूप से सहायक निदेशक , जिला दिव्यांगजन सशक्तिकरण कोषांग - सह - जिला प्रशासक , यूडीआईडी परियोजना एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी को दी गयी है।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!