Breaking News

पर्यावरण संरक्षण के लिए शिक्षकों ने लिया संकल्प


नालंदा संवाददाता:
आज पर्यावरण का बिगड़ता संतुलन धरती पर मौजूद समस्त जीवों व वनस्पतियों के लिए चिंता का सबब बना हुआ है। इंसान की विकासवादी सोच के कारण आए दिन जंगल पेड़ कट रहे है। जिसका दुष्प्रभाव हमारे सामने दृष्टिगोचर हो रहा। इसे मे शिक्षकों को भूमका संरक्षण की दिशा में अहम है। ये बातें बिहारशरीफ स्थित न्यू पटना सेंट्रल स्कूल में शिकक्षों के बीच आयोजित बैठक में गौरैया विहग फाउंडेशन के संस्थापक राजीव रंजन पाण्डेय ने कही। 

आगे उन्होंने कहा कि नगर निगम क्षेत्र के महल पर महल्ले के आसपास कई पक्षियों का बसेरा है। लेकिन इनकी पहले की तुलना में घटी है। समय रहते यदि ठोस कदम नहीं उठाया गया तो ये पक्षियां इतिहास का विषय बनकर रह जाएगी।


विद्यालय के डायरेक्टर प्रवीण कुमार ने कहा कि पर्यावरण व जैवविविधता का संरक्षण वर्तमान में प्राथमिक आवश्यकता है। इसके लिए अपने विद्यालय में बच्चों को जागरूक किया जाएगा और शिक्षकों को भी जिम्मेदारी दी जाएगी। अगले सप्ताह से पक्षियों के लिए दाना-पानी का व्यवस्था किया जाएगा और आम लोगों को भी जागरूक किया जाएगा।

इस मौके पर शिक्षक बिपिन कुमार,शैलेंद्र कुमार,साजिद अली खान,अंशु कुमारी,राजीव रंजन कुमार,संजय सिन्हा,प्रमोद कुमार निराला, ताफाजुल अमीन,सुधांशु कुमार,प्रियांशु कुमार,प्रेमशिला,प्रतिभा,सुनीता,रोजी प्रवीण, जेबा प्रवीण सहित अन्य लोग मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं

Type you comments here!